HomeIndiaदुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां...

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार …

Published on

चीन के साथ जारी तनातनी के बीच भारतीय सेना लगातार मजबूत होती जा रही है। बीते दिनों भारतीय वायुसेना को राफेल लड़ाकू विमान जैसी मजबूत शक्ति मिली। आज भारतीय वायुसेना अपना 88वां स्थापना दिवस मना रही है। इस खास मौके पर गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर वायुसेना अपनी ताकत का प्रदर्शन करेगी।

इस बार एयरफोर्स के बेड़े में राफेल को भी शामिल किया गया है। 1932 में स्थापित होने वाली भारतीय वायुसेना अब तक पाकिस्तान और चीन के खिलाफ युद्ध में अपना लोहा मनवा चुकी है।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

आपको बता दे कि भारतीय वायुसेना का गठन 8 अक्टूबर, 1932 को हुआ था। 8 अक्टूबर 1932 को स्थापना होने के कारण ही हर साल इसी दिन वायुसेना दिवस मनाया जाता है।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

इस खास मौके पर बता दे कि एक ऐसी लेडी और जांबाज पायलट के बारे में जो पहली वुमन फाइटर पायलट है। जिनका नाम है अवनी चतुर्वेदी है।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

अवनि ने अकेले मिग-21 बाइसन विमान उड़ा कर यह कीर्तिमान स्थापित किया है।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

इसके लिए वो पहली बार गुजरात के जामनगर एयरबेस से उड़ान भरी थी। इसके बाद अवनि फाइटर एयरक्राफ्ट उड़ाने वाली पहली भारतीय महिला पायलट बन गईं।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

2016 के पहले भारतीय वासुसेना में महिलाओं को फाइटर प्लेन चलाने की अनुमति नहीं थी। मगर अनुमति मिलने के दो साल बाद ही अवनि ने पहली महिला फाइटर पायलट बन गईं। अवनी का जन्म 27 अक्टूबर 1993 को मध्य प्रदेश के शहडोल जिला में हुआ था।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

अगर निजी जिंदगी की बात करें तो अवनी ने नवंबर 2019 में हरियाणा के पानीपत जिले के रहने वाले विनीत छिकारा के साथ शादी की है।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

अवनि का बचपन से ही लड़ाकू विमान उड़ने का सपना था। इसलिए वह अपने कॉलेज के फ्लाइंग क्लब में शामिल हुईं।

दुश्मनों को ठोकने वाली भारत की बेटी से मिलिए, रचा है इतिहास..मां के आंसू को बनाया हथियार ...

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...