HomeLife StyleEntertainmentदिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म के साथ खुलेंगे के सिनेमा हॉल

दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म के साथ खुलेंगे के सिनेमा हॉल

Published on

वैश्विक महामारी के बढ़ते संक्रमण के बीच कछुए की चाल की तरह सभी क्षेत्रों में धीरे-धीरे रियायतें दी जा रही हैं। इनमें अब स्कूल से लेकर सिनेमा हॉल तक को भी शामिल कर लिया गया है।

दरअसल, कोविड-19 के चलते अधिकांश भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया था यही कारण है कि महीनों बाद भी सिनेमा हॉल को खोलने की इजाजत अभी तक नहीं मिल पाई थी।

दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म के साथ खुलेंगे के सिनेमा हॉल

परंतु कोलकाता और आसपास के क्षेत्रों के कई सिनेमाघरों में अब अगले सप्ताह से दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की फिल्मों के साथ एक बार फिर सिनेमाघरों को खोलने का मन बना लिया है।

दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की सुपरहिट मूवीज को एक बार फिर पर्दे पर दिखाया जाएगा

फिल्म वितरण कंपनियों के अधिकारियों ने बताया कि शहर और जिले के कम से कम 14-15 सिंगल स्क्रीन सिनेमाघर राजपूत की 2015 की हिट फिल्म ‘केदारनाथ’ दिखाएंगे। वहीं, उनकी दूसरी फिल्मों

दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म के साथ खुलेंगे के सिनेमा हॉल

‘सोनचिड़िया’(2019), ‘एम एस धोनी : द अनटोल्ड स्टोरी’ (2016) और ‘छिछोरे’ (2019) को भी राज्य में फिर से रिलीज किया जा सकता है।

एसएसआर सिनेमाज प्राइवेट लिमिटेड के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक सतदीप साहा ने कहा, ‘‘हम सुशांत की ऐसी फिल्म दिखाना चाहते हैं जिसमें अच्छी सामग्री हो। चूंकि, त्योहारी सीजन में कोई बड़ी फिल्म रिलीज नहीं हो रही है

इसलिए हमने ऐसी फिल्में दिखाने का फैसला किया जो हाल में बॉक्स ऑफिस पर हिट रही हैं। हमें यह भी पता है कि सुशांत हर जगह चर्चा में हैं।’’साहा ने कहा, ‘‘इन दोनों बातों ने हमें विश्वास दिलाया कि सात महीने के बाद खुल रहे सिनेमाघरों के लिए केदारनाथ सही रिलीज होगी।’

दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म के साथ खुलेंगे के सिनेमा हॉल

उल्लेखनीय है कि बीते 14 जून को पवित्र रिश्ता सीरियल से अपने आप को दुनिया के समक्ष प्रस्तुत करने वाले महा कलाकार दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत ने बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में आत्महत्या कर ली थी,

हालांकि उनके इस कदम को अधिकांश लोगों ने आत्महत्या ना बोल कर हत्या भी बताया था। जिस पर उनके तमाम फैंस ने सीबीआई जांच की मांग की थी। भले ही सुशांत सिंह राजपूत को हमारे बीच से गए महीनों गुजर चुके हैं, लेकिन वह इन महीनों में एक पल के लिए भी अपने फैंस से दूर नहीं हो पाए हैं।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...