HomeFaridabad13 दिन बीते निकिता तौमर की शोकसभा में नेतागणों ने नम आंखों...

13 दिन बीते निकिता तौमर की शोकसभा में नेतागणों ने नम आंखों से दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

Published on

सेक्टर -2 स्थित सामुदायिक भवन में एक शोक सभा निकिता तौमर के नाम आयोजित की गई। इस दौरान निकिता तौमर की शोक सभा श्रद्धांजलि में बैनर पर निकिता तोमर को वीरांगना के स्वरूप सम्मानित किया गया था।

शोक सभा के लिए मात्र 200 लोगों को आने की अनुमति दी गई थी। महामारी को देखते हुए साफ-सफाई से लेकर सैनिटाइजर व फेस मास्क जैसे विषय को गंभीरता से अनिवार्य किया हुआ था।

13 दिन बीते निकिता तौमर की शोकसभा में नेतागणों ने नम आंखों से दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

वही इस मौके पर फरीदाबाद उपायुक्त यशपाल गर्ग, कैबिनेट मंत्री व बल्लभगढ़ विधायक मूलचंद शर्मा, पूर्व विधायक शारदा राठौर, एनआईटी 86 विधायक नीरज शर्मा, करणी सेना के महासचिव सूरजपाल अम्मू द्वारा वीरांगना निकिता तौमर की छवि पर पुष्प अर्पित करते हुए नम आंखों से श्रद्धांजलि दी।

वही बता दे की सभा के लिए 200 लोगों से ज्यादा की परमिशन ना मिलने के कारण लोगों को वहां रुकने नहीं दिया गया तो लोग आते रहे और निकिता तौमर को श्रद्धांजलि देकर और उसको न्याय देने के लिए अपना समर्थन की बात कहते हुए वापस अपने निवास को लौट गए।

13 दिन बीते निकिता तौमर की शोकसभा में नेतागणों ने नम आंखों से दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

वहीं इस मौके पर फरीदाबाद जिला उपायुक्त यशपाल गर्ग ने कहा कि निकिता के परिवार को प्रशासन का पूरा सहयोग हैं। उन्होंने कहा कि लड़ाई कितनी लंबी क्यों ना हो लेकिन प्रशासन परिवार के समर्थन में हमेशा खड़ा रहेगा।

वही अन्य नेता गणों ने भी निकिता के परिजनों को ढाढस बांधा और अपने समर्थन की बात कहते हुए निकिता के इंसाफ की लड़ाई में तत्पर रहने के लिए आश्वासन दिया।

इसके अलावा करणी सेना के महासचिव सूरजपाल अम्मू ने भी कहा कि वह एक पेशे से वकील है और जितना हो सकेगा वह परिवार का पूर्ण समर्थन करेंगे। उन्होंने कहा कि चाहे यह लड़ाई कितनी लंबी क्यों ना हो लेकिन जीत उनकी ही होगी।

13 दिन बीते निकिता तौमर की शोकसभा में नेतागणों ने नम आंखों से दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

उन्होंने कहा कि निकिता तोमर बहादुर लड़की थी। उन्होंने कहा कि उसने मरते दम तक एक वीरांगना की तरह लड़ाई लड़ी है। वहीं उन्होंने दुख जाहिर किया कि इतना सब कुछ होने के बाद भी उन्हें खेद है कि निकिता को न्याय दिलाने में इतनी देरी हो रही है।

Latest articles

पिता का सपना टूटा तो बेटी ने नौकरी छोड़ आईएएस बनकर 35 वी रैंक पाई।

वैसे तो तमाम कहानियां सुनी होंगी जिसमें बेटे ने बाप का सपना पूरा किया...

फरीदाबाद के स्कूलों में अब हर घंटे पानी पीने के लिए बजे की घंटी।

उत्तर भारत में हरियाणा में भी भीषण गर्मी का प्रकोप पिछले कुछ दिनों से...

मई के महीने में दिल्ली एनसीआर में हुई तेज बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट!

दिल्ली एनसीआर में हुई तेज बारिश के कारण मौसम बड़ा सुहाना है और साथ...

बैंक से निजात पाने के लिए लोगों ने 2000 के नोटों को बदलने के लिए निकाला यह देसी जुगाड़।

₹2000 के नोटों का चलन बाहर होने के बाद ज्वेलरी मार्केट कारोबारियों का कहना...

More like this

पिता का सपना टूटा तो बेटी ने नौकरी छोड़ आईएएस बनकर 35 वी रैंक पाई।

वैसे तो तमाम कहानियां सुनी होंगी जिसमें बेटे ने बाप का सपना पूरा किया...

फरीदाबाद के स्कूलों में अब हर घंटे पानी पीने के लिए बजे की घंटी।

उत्तर भारत में हरियाणा में भी भीषण गर्मी का प्रकोप पिछले कुछ दिनों से...

मई के महीने में दिल्ली एनसीआर में हुई तेज बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट!

दिल्ली एनसीआर में हुई तेज बारिश के कारण मौसम बड़ा सुहाना है और साथ...