Pehchan Faridabad
Know Your City

इस मंदिर में पिछले 800 साल से बंद था यह कमरा, अब खोला दरवाज़ा तो सबके होश उड़ गए

हमारा भारत खूबसूरत जगहों से भरा पड़ा है। इतिहास के पन्नों को अगर पलटा जाए तो कई ऐसे रहस्यमयी चीज़े सामने आएंगी जो आपको पता भी नहीं होगा। जी हां अभी भी कुछ ऐसे मंदिर एवं इतिहासिक भवन मिलेंगे जो अपने अंदर कई राज समेटे हुए है।

आप इनके रहस्य जानने की जितनी कोशिश करेंगे, उतने ही अधिक राजों की गुत्थियाँ उलझती जाएँगी लेकिन कई ऐसे लोग भी है जो इन गुत्थियों को सुलझाना चाहते है। तभी तो खोज निकल पड़ते है। आज हम आपको बताने जा रहे है इस खास मंदिर के बारे में जो अपने आप में बेहद खास बन चुका है।

इसके पीछे का कारण यह है कि इस मंदिर को पिछले 800 सालों से किसी नहीं खोला था लेकिन अब जब इसका दरवाजा खोला गया तो हैरान कर देने वाले तथ्य सामने आये। जी हां मंदिर के पीछे का रहस्य जानने के बाद आप चौक जाएंगे।

हाल ही में तिशय क्षेत्र बरासों के प्राचीन दिगंबर जैन मंदिर में करीब 800 साल से एक बंद कमरे को खोलने पर रहस्मयी मिली है। ऐसा बताया जा रहा है कि कमरे के नीचे एक और मंजिल है और उसमें प्राचीन मूर्तियां मिलने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

आपको बता दे कि सालों से बंद कमरे को खुलवाया गया तो इसमें चमगादड़ झुंड के रूप में निकले। वहीं जब साफ- सफाई कराई गई तो तीन- चार ट्राली कचरा निकला। इस कमरे में एक ओर गुफा नजर आ रही है तथा कई आले भी बने हुए हैं। गुफा में नीचे की ओर सीढ़ियां भी दिखाई देने लगी हैं।

इसी से अंदाजा लगाया जा रहा है कि कई मूर्तियां भी हो सकती है। अभी अगले कुछ दिनों तक मंदिर की साफ सफाई का कार्य चलेगा जिसके बाद मंदिर की गुफा का राज सामने आ सकेगा।

मंदिर के आचार्य के अनुसार भी मंदिर में मेहराबदार मंदिर या मूर्तियां मिलना तय है। बताते चले कि जिला पुरातत्व अधिकारी पांडे जी के अनुसार बरासो के इस जैन मंदिर में 90 दशक में जैन समितियों द्वारा कुछ कार्य करवाया गया था।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More