HomeUncategorizedहरियाणा में लगा पटाखों पर प्रतिबंध तो पंजाब की हुई बल्ले बल्ले

हरियाणा में लगा पटाखों पर प्रतिबंध तो पंजाब की हुई बल्ले बल्ले

Published on

बढ़ते वायु प्रदूषण और उस पर लगाम लगाने को लेकर दिल्ली सरकार, सिक्किम, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में पटाखों पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी है. इसी कड़ी में अब चंडीगढ़ का नाम शामिल हो गया है. डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की एग्जीक्यूटिव अथॉरिटी ने डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट के तहत यह निर्णय लिया है.

इसके साथ यह भी फैसला लिया गया है कि जो भी लाइसेंस इस साल जारी किए गए हैं उन्हें रद्द किया जायेगा. जबकि 18 ऐसे राज्य हैं जिनको एनजीटी की ओर से नोटिस भेजे गए हैं.

हरियाणा में लगा पटाखों पर प्रतिबंध तो पंजाब की हुई बल्ले बल्ले

लेकिन एक राज्य ऐसा है जिसका कहना है हमारे शहर की आबोहवा संतोष जनक है इसलिए पटाखे जलाने और उपयोग को लेकर प्रतिबंध नही होना चाहिए

पंजाब ने यह कहते हुए पटाखों की बिक्री और उपयोग को जारी रखने का फैसला किया है कि राज्य में हवा की गुणवत्ता मध्यम बनी हुई है।पंजाब में पटाखा उद्योग 175 करोड़ रुपये का है और राज्य सरकार का यह फैसला इसके लिए राहत बनकर आया है।

पंजाब सरकार भले ही पटाखों पर प्रतिबंध को जरूरी नहीं समझ रही, लेकिन उसके पड़ोसी राज्य हरियाणा, राजधानी चंडीगढ़ और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली ने पाबंदी का ऐलान कर दिया है।

हरियाणा में लगा पटाखों पर प्रतिबंध तो पंजाब की हुई बल्ले बल्ले

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कहा कि प्रदूषण से बढ़ते कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए दीवाली पर पटाखों की बिक्री और आतिशबाजी पर बैन लगाया है।https://twitter.com/ANI/status/1326413032721948673?s=19

एनआई कि एक रिपोर्ट के अनुसार लुधियाना शहर में पटाखों की विक्री में बढ़ोत्तरी हुई है वही लुधियाना में पटाखा विक्रेताओं का कहना है कि पड़ोसी राज्यों में प्रतिबंध के कारण पटाखा की बिक्री बढ़ रही है

साथ यह पटाखे विक्रेता कहते हैं, “बिक्री पहले के मुताबिक अब अच्छी हो गई है। हमें पड़ोसी राज्यों से भी आदेश मिल रहे हैं क्योंकि कई लोग पंजाब में अपने रिश्तेदारों के साथ दिवाली मनाने की योजना बना रहे है

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...