Pehchan Faridabad
Know Your City

दुनिया की इन देशों में है अजीबो-गरीब कानून जानकर लगेगा तगड़ा झटका

इन देशों में क्यों होता है ऐसा, जानकर आप रह जाएंगे हैरान। दरअसल कुछ देशों की अपनी खुद की ही पॉलिसी होती है। ज़्यादातर देखा जाता है कि जिन देशों को लगता है कि उन्हीं की जनता, अपनी ही सरकार की मुखालफत करने लगी है।

तब सरकार को ये लगने लगता है कि कहीं ऐसा ना हो कि सरकार की किरकिरी होने लगे इसलिए सरकार कोशिश करती है कि कुछ ऐसा ही कर दिया जाए जिससे सरकार को कोई स्पष्टीकरण ना देना पड़े और ना ही उससे कोई सवाल करे इसलिए भी कुछ देश ऐसा करते हैं और कुछ देश गूगल जैसी साइट को अपने देश में इसलिए भी बैन रखते हैं

red and white round signage
Photo by Paolo on Pexels.com

जिससे मूल्क के लोगों को अन्य देशों की चीज़ों के बारे में कुछ पता ही ना चल सके और इस तरह से देश के नागरिक सिर्फ देश के ही बने रहे खैर वजह तो और भी कई हैं और ये सभी वजह अलग-अलग देशों की अपनी अलग-अलग ही हैं।

black and gray digital device
Photo by Torsten Dettlaff on Pexels.com

अब ऐसे देश कौन से हैं बताते हैं और वहां किन चीज़ों पर प्रतिबंध है ये भी बताते हैं, गूगल पर प्रतिबंध है चीन में, दरअसल साल 2009 से गूगल पर रोक लगी है यहाँ की सरकार का मानना है कि ये एक अमरीकन कम्पनी है और चीन की ख़ुफ़िया जानकारी अमेरिका को भेजती है।

stylish woman blowing bright gum on street
Photo by Matheus Bertelli on Pexels.com

च्युइंगम पर प्रतिबंध है सिंगापूर में, च्युंगम चबाने पर गिरफ्तार कर लिया जाता है यहां पर च्यूइंग गम का प्रयोग केवल चिकित्सा के रुप में होता है।

blue jeans fabric close up
Photo by Karolina Grabowska on Pexels.com

नीली जींस को पहनने पर रोक है उत्तर कोरिया में, यहां 2016 के बाद से नीली जींस पहनना अपराध की श्रेणी में आता है क्योंकि उत्तर कोरिया में इसे पश्चिमी सभ्यता का प्रतीक समझा जाता है हालाँकि विदेशी पर्यटक इसे पहन सकते है

black and silver cassette player
Photo by Pixabay on Pexels.com

रेडियो प्रसारण पर प्रतिबंध है नॉर्वे में, बतादें कि 2017 से नॉर्वे में रेडियों की एनालॉग फ्रिक्वेंसी पर रोक लगी है, क्योंकि नॉर्वे की सरकार चाहती है कि उसके नागरिक डिजिटल रेडियो का इस्तेमाल करें।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More