HomeGovernmentदिल्ली की अधिकतर सीमाएं ब्लॉक, हरियाणा-यूपी आवागमन के लिए अपनाए यह दो...

दिल्ली की अधिकतर सीमाएं ब्लॉक, हरियाणा-यूपी आवागमन के लिए अपनाए यह दो रुट

Published on

किसान आंदोलन के चलते भारत की राजधानी नई दिल्ली की अधिकतम सीमाओं को ब्लॉक कर दिया गया है। जिनमें नेशनल हाईवे-44 का सिंधु बॉर्डर हो या फिर एनएच-9 का टिकरी बॉर्डर यह सभी किसान आंदोलन के चलते बंद कर दिए गए हैं। वहीं दिल्ली की हवा को साफ करने के लिए एक रूट को ही पूरी तरीके से खोला गया है।

बावजूद आलम यह है कि दिल्ली की एयर क्वालिटी तो आज भी बेहद खराब और दयनीय स्थिति में दर्ज की गई है। उधर,‍ ईस्टर्न और वेस्‍टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे को दिल्‍ली न आने वाले ट्रैफिक के लिए बनाया गया था, मगर वातावरण और माहौल को देखते हुए उसका इस्‍तेमाल यहीं आने-जाने के लिए हो रहा है।

दिल्ली की अधिकतर सीमाएं ब्लॉक, हरियाणा-यूपी आवागमन के लिए अपनाए यह दो रुट

बताते चलें कि उत्तर भारत से दिल्ली एनसीआर को जोड़े रखने वाला यही एकमात्र रास्ता है, जिसे फिलहाल खोला गया है। उधर, पानीपत की तरफ जाने वालों के लिए सिंधु बॉर्डर भी बंद है इतना ही नहीं रोहतक की और लेकर जाने वाला टिकरी बॉर्डर भी बंद पड़ा है।

इसके अलावा अन्य बॉर्डर की बात करें तोऔचंदी, सफियाबाद, प्याऊ मनियारी, सबोली बॉर्डर भी बंद हैं। किसानों द्वारा फिलहाल अभी तक ईस्‍टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे और वेस्‍टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे पर जाम की स्थिति उत्पन्न नहीं की गई है। दोनों एक्‍सप्रेसवे 135-135 किलोमीटर लंबे हैं और कुंडली व पलवल में मिलते हैं।

दिल्ली की अधिकतर सीमाएं ब्लॉक, हरियाणा-यूपी आवागमन के लिए अपनाए यह दो रुट

ईस्‍टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे के टोल गेट पर तैनात नैशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के स्‍टाफ से मिली जानकारी के मुताबिक जहां ट्रैफिक बढ़ा है, वहीं टोल नाके नाके पर लंबी लंबी गाड़ियों की कतारें देखने को मिल रही है।

इतना ही नहीं थी टिकरी बॉर्डर पर भी यही नजारा देखने को मिल रहा है। यही वह बॉर्डर है जहां से रोहतक से बड़ी मात्रा में ट्रैफिक दिल्ली की ओर होता है। उन्हें सिंधु बॉर्डर के मुकाबले तुलना की जाए तो टिकरी बॉर्डर पर प्रदर्शन स्थल भी बढ़ा है।

उधर पुलिस विभाग द्वारा दिल्ली एनसीआर में प्रवेश करने वाले लोगों को ‍वेस्टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेसवे लेने की सलाह दी गई है।

दिल्ली की अधिकतर सीमाएं ब्लॉक, हरियाणा-यूपी आवागमन के लिए अपनाए यह दो रुट

इस बात से सभी परिचित हैं कि हरियाणा और उत्तर प्रदेश से लगती हुई दिल्ली की कई सीमाओं पर पिछले एक सप्ताह से भी अधिक समय हो गया है किसान कृषि बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और डेरा जमाए हुए बैठे हैं।

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ट्विटर हैंडल के जरिए सिंघु बॉर्डर, लामपुर, औचंदी, सफियाबाद, प्याऊ मनियारी और सबोली के रास्तों के बारे में अपडेट दे रही है। इसके अलावा, दिल्ली-उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर एनएच-44, गाजीपुर और चिल्ला सीमा पर रोड ब्‍लॉकेज को लेकर भी दिन में कई अपडेट्स आते हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...