Online se Dil tak

सेवा की जुनून में पार किया हर तूफान, 6 वर्षो से सड़क बनाने के लिए झोंक दी जान

मौसम का बदलता मिजाज और दिन प्रतिदिन बढ़ती कड़ाके की ठंड में भी हरियाणा के एक युवा का हौसला कम होने का नाम ही नहीं ले रहा हैं। इसका कारण यह है उस युवा के अंदर सेवा भाव इतना भर चुका है कि वह अपने अंदर जुनून के भाव में खुद को मजबूत करता चला गया है।

यह युवा कोई और नहीं बल्कि हरियाणा प्रदेश के भिवानी शहर में हनुमान गेट नई बस्ती का राष्ट्रीय युवा पुरस्कार अवॉर्डी अशोक कुमार भारद्वाज है। जो वर्ष भर भिवानी शहर से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 709 ई व भिवानी से दादरी कोटपुतली एनएच 148 बी की खस्ता हालत पर कार्य करते रहे।

सेवा की जुनून में पार किया हर तूफान, 6 वर्षो से सड़क बनाने के लिए झोंक दी जान
प्रतीकात्मक तस्वीर

जिन्होंने इस मार्ग पर अपनी दो बेटियों के जन्म पर सड़क सुरक्षा कारसेवा अभियान चलाकर लोगों को हादसों से बचाने का संकल्प लिया था,जो आज भी जारी है।

भारद्वाज की कारसेवा के बल पर एनएच और एनएचएआई ने भी राष्ट्रीय राजमार्ग की सुध ली और सड़क पर बने गहरे गड्डों को जो भारद्वाज अपनी कारसेवा के बल पर भर रहा था, उस पर काम शुरू किया गया। जिससे लोगों को स्थाई रूप से मार्ग पर गड्ढों से मुक्ति काफी हद तक मिली है।

इन गड्ढों के कारण अनेक दमा जैसी बीमारियां पनप रही थी और जिसके चलते यह बीमारियां शरीर में घर कर रही थी और दिन प्रतिदिन इस तरह के हादसे बढ़ते जा रहे थे। इतना ही नहीं कितने लोग अपनी जान तक गवाने के आतुर हो गए थे।

सेवा की जुनून में पार किया हर तूफान, 6 वर्षो से सड़क बनाने के लिए झोंक दी जान
सेवा की जुनून में पार किया हर तूफान, 6 वर्षो से सड़क बनाने के लिए झोंक दी जान

जहां संक्रमण के कारण सभी प्रकार के कार्यों पर लगाम लगा दी गई थी और ऐसे में सड़क निर्माण जैसे कार्य भी अवरुद्ध हो गए थे परंतु अशोक की सेवा बंद नहीं रही ,कोविड के समय भी वे कस्सी व तसला लेकर सड़को के गड्ढे भर कर वाहन चालकों की जान बचाता रहा। जिसके चलते इस बार बारिश में कोई भी ऐसा बड़ा हादसा नहीं हुआ। लोगों को काफी हद तक राहत मिली।

अनेक जहों पर चला चुके है सड़कों की सेहत सुधारने का अभियान अशोक पीछे वर्ष भर में भिवानी,दादरी,लोहारू,सिवानी,हिसार,महेंद्रगढ़,माधोगढ़ के पहाड़ पर कनीना बाढड़ा बहल,सतनाली,राजस्थान सूरजगढ़,चिड़ावा, झुंझनू, भादरा, राजगढ़,पिलानी, बीकानेर, डूंगरगढ़, उत्तरप्रदेश, हरिद्वार व उत्तराखंड सहित अनेक स्थानों पर सड़क सुरक्षा कारसेवा अभियान के नाम से चला चुके हैं।

जानकारी के मुताबिक चाहे कितने मौसम क्यों नहीं बदल गए चाहे, लेकिन राष्ट्रपति अवार्डी अशोक भारद्वाज अपने कार्य में किसी तरह की कोई ढिलाई नहीं बरतते। वे हर तरह के मौसम में बाहर निकलकर लोगों की सेवा में जुट जाते है।

हादसे का खतरा होने पर लगाता है उस जगह पर रिफलेक्टर उनको अपने अभियान के साथ-साथ जिस भी मार्ग पर खतरा दिखाई पड़ता है वहां पर संकेत के रूप में सुरक्षा और सावधान की दृष्टि से रिफ्लेक्टर लगाकर लोगों की जान बचाने का अनूठा संदेश देते हैं। जिनका यह अभियान हाल ही में कोहरे के समय जारी है। कारसेवा से अबतक करीब 3000 रिफ्लेक्टर नि:शुल्क वितरित कर चुके हैं।

यह नहीं है कि यह युवा शिक्षित है जो एमए बीए,बीएड,प्रभाकर और जिला रेडक्रॉस से लेक्चरर परीक्षा पास हैं। जिनकी सेवाओं को प्रदेश के महामहिम राज्यपाल और देश के महामहिम राष्ट्रपति ने भी सम्मान दिया है और 5 राज्यों की सरकारों से भी सम्मानित हैं। सड़क सुरक्षा के साथ .साथ भारद्वाज कोविड 19,पानी व पर्यावरण संरक्षण,बेटी बचाओ .बेटी पढ़ाओ,दिव्यांग हित सेवा,नशा मुक्ति,स्वच्छ्ता ,राष्ट्रीय एकता व सद्भावना,प्राकृतिक आपदा राहत देश सहित अनेक विषयों से जुड़े कार्यक्रम कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं।

Read More

Recent