Pehchan Faridabad
Know Your City

अगर आप भी देंगी HTET-2020 के एग्जाम तो उतारनी होंगी हाथ की अंगूठी और गले की चेन

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा 2 और 3 जनवरी 2021 को होने वाली हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा 2020 के नकल रहित संचालन के लिए कमर कस ली है। वहीं परीक्षा को नकल रहित करने के साथ-साथ सफल बनाने के लिए हर कमरे में कंट्रोल रूम से लेकर सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से कड़ी निगरानी रखने का भी सख्त इंतजाम कर लिया गया है। यह सभी सख्ताई प्रदेश में बने सभी परीक्षा केंद्रों पर की जाएगी।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड मुख्यालय पर जिला शिक्षा अधिकारियों की एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता बोर्ड चेयरमैन डॉक्टर जगबीर सिंह और सचिव राजीव प्रसाद द्वारा की गई।

बैठक में परीक्षा के सफल संचालन के साथ-साथ नकल रहित परीक्षा के लिए जरूरी दिशा निर्देश दिए गए। बैठक में बताया गया कि एचटेट परीक्षा में महिला अभ्यर्थियों को मंगलसूत्र पहनने, बिंदी व सिंदूर लगाने की ही छूट होगी। अंगूठी, चेन, बालियां इत्यादि ले जाने की स्वीकृति नहीं होगी।

इसके अलावा सिख अभ्यर्थियों की बात करें तो उन्हे धार्मिक आस्था के चिह्न ले जाने की कोई मनाही नहीं होगी। इसके अतिरिक्त नेत्रहीन, अशक्त अभ्यर्थियों का 20 मिनट प्रति घंटा के हिसाब से कुल 50 मिनट अतिरिक्त दिए जाएंगे। वही यह बात भी बताई गई है

कि इसकी ओएमआर सीट भी अलग से लिफाफेे में केंद्र अधीक्षक द्वारा भेजी जानी है। परीक्षा शुरू होने के बाद 15 मिनट के भीतर शेष बची अप्रयुक्त बुकलेट्स कपड़े से बने लिफाफे में डालकर तुरंत सील करना अनिवार्य होगा।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित होने वाली एचटेट परीक्षा में दो लाख 61 हजार 299 उम्मीदवार परीक्षा देंगे। 2 जनवरी, 2021 को लेवल-3 (पीजीटी) की परीक्षा सांय 3:00 बजे से 5:30 बजे तक होगी। इसमें 82,185 अभ्यर्थी शामिल होंगे। 3 जनवरी, 2021 की परीक्षा सुबह के सत्र में 10 बजे से 12:30 बजे तक होगी।

इसमें लेवल-2(टीजीटी) के 1,05,481 अभ्यर्थी प्रविष्ट होंगे। सांय कालीन सत्र की परीक्षा का संचालन 3 बजे से 5:30 बजे तक होगा। इसमें लेवल-1 (पीआरटी) के 73,633 अभ्यर्थी शामिल होंगे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More