Pehchan Faridabad
Know Your City

नही लगाया फास्टैग तो करना होगा दुगना डिजिटल भुगतान , कैशलेस होंगे टोल

जहां जनवरी से साल की शुरुआत होने को है। वही एक नया बदलाव भी अब वाहनों और वाहन चालकों का इंतजार कर रहा है। दरअसल, कैशलेस भुगतान के लिए अब भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण अपने सभी टोल से आवागमन को कैशलेस करने की तैयारी में जुट गया है।

इसमें परिवर्तन के बाद अब टोल टैक्स पर किसी भी वाहन चालक से नगद रकम नहीं ली जाएगी, बल्कि इसका फास्ट टैग के जरिए ही डिजिटल भुगतान किया जाएगा। अन्यथा, किसी वाहन पर फास्टैग नहीं होगा तो उसे टैक्स का भुगतान डिजिटल रूप में करना होगा, वह भी दोगुना। यानी जल्द सभी वाहन चालकों को अब फास्टैग लगवाना ही होगा, वरना टोल पर उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

सोमवार को प्राधिकरण की ओर से दोपहर 12 बजे से लेकर बजे तक एक ट्रायल भी किया गया जिसमें कैश वाली लाइन से गुजर रहे वाहन चालकों को कैशलेस भुगतान करने के लिए जागरूक किया गया था। इतना ही नहीं उन महान चालकों को 1 जनवरी से लागू हो रहे नए नियमों के बारे में भी की जानकारी उपलब्ध करवाई गई थी।

वैसे तो इससे पहले भी प्राधिकरण की ओर से कई बार फास्टैग लगवाने की डेड लाइन तय की जा चुकी हैं, लेकिन इसके बावजूद काफी वाहन चालकों द्वारा इस नियम को नजंदाज किया गया था।

सराय टोल से रोजाना 45 हजार से अधिक वाहन गुजरते हैं। यहां कुल 20 लेन हैं। इनमें से 10 दिल्ली जाने और बाकी दिल्ली से फरीदाबाद की ओर आने वाली हैं। फास्टैग वाली मशीनें तो सभी लाइनों पर लगा दी गई हैं पर 2 लेन कैश वालों के लिए आरक्षित हैं। परंतु यह नया नियम जल्दी आगामी महीनेसे
पूरी तरह लागू कर दिया जाएगा।

इसका सर्वाधिक सर्वश्रेष्ठ फायदा यह होगा कि ऐसे में जो वाहन चालक कैश से भुगतान करते थे। अब उनके कारण उत्पन्न होने वाले जाम से छुटकारा मिल सकेगा। सराय टोल पर एक तरफ फास्टैग वाली लाइनों से वाहन फर्राटा भर रहे हैं तो दूसरी ओर कैश वाली लेन से गुजरने में थोड़ा रुककर चलना पड़ रहा है।

एन एच ए आई परियोजना प्रबंधक धीरज सिंह ने बताया कि टोल पर ही विभिन्न बैंकों की ओर से फास्टैग देने के लिए स्टाल लगा दिए गए हैं, ताकि वाहन चालकों को परेशानी न हो। इसके अलावा अपने क्षेत्र के नजदीकी बैंकों से यह सुविधा ली जा सकती है।

सभी वाहनों पर फास्टैग लगवाने के आदेश तो जनवरी में आ गए थे। वाहन चालकों को कई बार मोहलत भी दी गई। इसके बावजूद सभी वाहनों पर फास्टैग नहीं लगवाया गया है। अब एक जनवरी से सख्ती बरतना शुरू हो जाएगी। इसलिए सभी वाहन चालक जल्द फास्टैग लें। इससे उन्हें टोल पर परेशान नहीं होना पड़ेगा।

जनवरी से टोल टैक्स पर नया बदलाव, कैशलेस देना होगा भुगतान नहीं तो जान लीजिए क्या होंगे परिणाम

जहां जनवरी से साल की शुरुआत होने को है। वही एक नया बदलाव भी अब वाहनों और वाहन चालकों का इंतजार कर रहा है। दरअसल, कैशलेस भुगतान के लिए अब भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण अपने सभी टोल से आवागमन को कैशलेस करने की तैयारी में जुट गया है। इसमें परिवर्तन के बाद अब टोल टैक्स पर किसी भी वाहन चालक से नगद रकम नहीं ली जाएगी, बल्कि इसका फास्ट टैग के जरिए ही डिजिटल भुगतान किया जाएगा। अन्यथा, किसी वाहन पर फास्टैग नहीं होगा तो उसे टैक्स का भुगतान डिजिटल रूप में करना होगा, वह भी दोगुना। यानी जल्द सभी वाहन चालकों को अब फास्टैग लगवाना ही होगा, वरना टोल पर उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

सोमवार को प्राधिकरण की ओर से दोपहर 12 बजे से लेकर बजे तक एक ट्रायल भी किया गया जिसमें कैश वाली लाइन से गुजर रहे वाहन चालकों को कैशलेस भुगतान करने के लिए जागरूक किया गया था। इतना ही नहीं उन महान चालकों को 1 जनवरी से लागू हो रहे नए नियमों के बारे में भी की जानकारी उपलब्ध करवाई गई थी।

वैसे तो इससे पहले भी प्राधिकरण की ओर से कई बार फास्टैग लगवाने की डेड लाइन तय की जा चुकी हैं, लेकिन इसके बावजूद काफी वाहन चालकों द्वारा इस नियम को नजंदाज किया गया था।

सराय टोल से रोजाना 45 हजार से अधिक वाहन गुजरते हैं। यहां कुल 20 लेन हैं। इनमें से 10 दिल्ली जाने और बाकी दिल्ली से फरीदाबाद की ओर आने वाली हैं। फास्टैग वाली मशीनें तो सभी लाइनों पर लगा दी गई हैं पर 2 लेन कैश वालों के लिए आरक्षित हैं। परंतु यह नया नियम जल्दी आगामी महीनेसे
पूरी तरह लागू कर दिया जाएगा।

इसका सर्वाधिक सर्वश्रेष्ठ फायदा यह होगा कि ऐसे में जो वाहन चालक कैश से भुगतान करते थे। अब उनके कारण उत्पन्न होने वाले जाम से छुटकारा मिल सकेगा। सराय टोल पर एक तरफ फास्टैग वाली लाइनों से वाहन फर्राटा भर रहे हैं तो दूसरी ओर कैश वाली लेन से गुजरने में थोड़ा रुककर चलना पड़ रहा है।

एन एच ए आई परियोजना प्रबंधक धीरज सिंह ने बताया कि टोल पर ही विभिन्न बैंकों की ओर से फास्टैग देने के लिए स्टाल लगा दिए गए हैं, ताकि वाहन चालकों को परेशानी न हो। इसके अलावा अपने क्षेत्र के नजदीकी बैंकों से यह सुविधा ली जा सकती है। सभी वाहनों पर फास्टैग लगवाने के आदेश तो जनवरी में आ गए थे। वाहन चालकों को कई बार मोहलत भी दी गई। इसके बावजूद सभी वाहनों पर फास्टैग नहीं लगवाया गया है। अब एक जनवरी से सख्ती बरतना शुरू हो जाएगी। इसलिए सभी वाहन चालक जल्द फास्टैग लें। इससे उन्हें टोल पर परेशान नहीं होना पड़ेगा।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More