HomeEducationछात्रों के भविष्य पर संक्रमण का पहरा, अभी भी स्कूल आने पर...

छात्रों के भविष्य पर संक्रमण का पहरा, अभी भी स्कूल आने पर रहेगी पाबंदी ऑनलाइन होगी पढ़ाई

Published on

संक्रमण के बढ़ते कदमों के कारण जहां एक तरफ आर्थिक समस्या व आर्थिक गतिविधियों पर नकारात्मक प्रभाव पड़े हैं। वहीं दूसरी तरफ इस महामारी ने सबसे ज्यादा प्रभावित शिक्षा और शिक्षण संस्थानों को किया है। छात्रों के भविष्य के बारे में सोचते हुए अभी भी हरियाणा सरकार छात्रों को स्कूल बुलाने के लिए कतई तैयार नहीं है।

इसलिए हरियाणा सरकार ने निर्णय लिया है कि फिलहाल पहली कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल पूरी तरह बंद है, और ऑनलाइन ही पढ़ाई जारी रखी जाएगी।

छात्रों के भविष्य पर संक्रमण का पहरा, अभी भी स्कूल आने पर रहेगी पाबंदी ऑनलाइन होगी पढ़ाई

अब तक महत्वपूर्ण जानकारी

वहीं इस समय सबसे महत्वपूर्ण जानकारी यह है कि जनवरी से इन कक्षाओं के विद्यार्थियों का मासिक मूल्यांकन टेस्ट अवसर (AVSAR) ऐप के माध्यम से लिया जाएगा। इसके अलावा जिन छात्रों और छात्राओं के लिए स्कूल आने में अनुमति दी गई हैं। उन सभी छात्रों को बदलते मौसम के कारण अब स्कूल का समय सुबह 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक रखे जाने का निर्णय लिया गया है।

छात्रों के भविष्य पर संक्रमण का पहरा, अभी भी स्कूल आने पर रहेगी पाबंदी ऑनलाइन होगी पढ़ाई

जानकारी के मुताबिक 14 दिसंबर से सरकारी व निजी शिक्षण संस्थानों को खोलने की अनुमति दे दी गई थी। लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने शिक्षा निदेशालय को पहले ही इस बात से अवगत करा दिया था कि सोशल डिस्टेंस व अन्य सभी नियमों का अच्छे से पालन करना जरूरी होगा । वही किसी भी छात्र या अध्यापक में कोरोना के जरा भी लक्षण दिखने पर कोरोना टेस्ट कराना भी अनिवार्य कर दिया था।

गौरतलब है कि लॉकडाउन के बाद हरियाणा में 21 सितंबर से स्कूल खोले गए थे। इसके तहत कक्षा 9वीं से 12वीं के छात्रों को स्कूल आने की इजाजत दी गई थी, लेकिन नवंबर महीने कोरोना के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती हुई देखी गई थी।

छात्रों के भविष्य पर संक्रमण का पहरा, अभी भी स्कूल आने पर रहेगी पाबंदी ऑनलाइन होगी पढ़ाई

वहीं प्रदेश के विभिन्न जिलों में लगातार स्कूलों से शिक्षकों व छात्रों के भी संक्रमित होने के मामले सामने आने लगे। इसके बाद सरकार ने 20 नवंबर को स्कूल बंद रखने के आदेश दे दिए थे। अब जहां सरकार ने विद्यार्थियों के बारे में सोचते हुए एक बार फिर पढ़ाई जारी रखने के लिए तो कहा है लेकिन ऑनलाइन के माध्यम से।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...