HomeFaridabadबंदरो के आतंक ने किया फरीदाबाद को परेशान ,कोर्ट में खा जाते...

बंदरो के आतंक ने किया फरीदाबाद को परेशान ,कोर्ट में खा जाते है वकीलों का खाना

Published on

फरीदबाद : एक तो सर्दी का कहर दूसरा बंदरो का आतंक यह दोनों चीजे फरीदाबादवासियों के लिए जी का जंजाल बन गई है इनकी वज़ह से शहरवासियों ने घूमना बंद कर दिया हैं। सुबह हो या शाम बंदरो से सभी परेशान है। जिसकी वज़ह से छत पर जाना भी बंद हो गया है।

बंदरों के आतंक से शहरवासी पर दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। उत्पाती बंदर दिनभर गलियों, मकान की छतों पर डेरा डाले रहते है। ऐसे में लोगों का गलियों में निकलना व छतों पर सर्दी के दिनों में बैठना मुश्किल हो गया है। दिनों दिन बढ़ते बंदरों के आतंक से शहरवासी खासे परेशान हो रहे हैं। बावजूद इसके प्रशासन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा।

बंदरो के आतंक ने किया फरीदाबाद को परेशान ,कोर्ट में खा जाते है वकीलों का खाना

सैनिक कॉलोनी डी डी आहूजा ने बताया कि उत्पाती बंदर छत पर सूखते कपड़े फाड़ने व खाने-पीने की सामग्री हाथों से झपटकर ले जाते है। इन उत्पाती बंदरों ने कई लोगों को काटकर घायल भी कर दिया है। ऐसे में लोगों में भय का माहौल बना हुआ है।

सेक्टर 62 के रहने वाले गणेश कुमार ने बताया कि वह पेशे वकील है। सेक्टर 12 स्थित कोर्ट में प्रेक्टीस के लिए जाते है। उन्होंने बताया कि कोर्ट परिसर में बंदरों का आतंक बहुत जयादा हैं। बंदरो की वज़ह से कोर्ट में खाना भी नहीं खा पाते। इसकी वज़ह से वकीलों ने खाना बंद कर दिया।

बंदरो के आतंक ने किया फरीदाबाद को परेशान ,कोर्ट में खा जाते है वकीलों का खाना

आर डब्लू ए यू ई सेक्टर 21 डी के वाईस प्रेजिडेंट एस पी सेठ ने बताया की सेक्टर में बंदर दिनभर गलियों में डेरा डाल रखते है। आने-जाने वाले राहगीरों पर अचानक धावा बोलते है। उत्पाती बंदरों के कारण बच्चों का गलियों में खेलना तक बंद हो गया है। इसके अलावा बंदरो ने छतों पर लगी पानी के टैंकर की पाइप लाइन को तोड़ देते है।

बंदरो के आतंक ने किया फरीदाबाद को परेशान ,कोर्ट में खा जाते है वकीलों का खाना

जिसकी वज़ह से वह कहीं बार पाइप लाइन को ठीक करवा चुके हैं। बंदरों के आतंक की वज़ह से सेक्टर वासियों ने घर की बालकॉनी में गमलों को रखना बंद कर दिया हैं। क्योंकि बंदर गमलों को भी तोड़ कर चले जाते हैं। लोगों ने बचाव के चलते हजारों खर्च कर अपने मकानों में लोहे की जालियां लगवाई है।

बंदरो के आतंक ने किया फरीदाबाद को परेशान ,कोर्ट में खा जाते है वकीलों का खाना

आर डब्लू ए सेक्टर 15 के प्रधान नीरज चावला ने बताया की बंदरों के काटने के अधिकतर मामले बच्चे, बुजुर्ग तथा महिलाओं के साथ सामने आए हैं। बंदर छोटे बच्चों तथा महिलाओं को आसानी से शिकार बनाकर इन्हें जख्मी कर रहे हैं। बंदरो का झुंड सेक्टर में आते है और सेक्टर के पार्क से लेकर घरों में रखे गमलों को तोड़ देते हैं।

एडिशनल कमीश्नर इंदरजीत ने बताया कि उनकी ओर से वाइल्ड लाइफ को लेटर लिखा जा चुका है। परमिशन मिलने के बाद बंदरो को उनकी दिशानिर्देश के अनुसार पकड़े जाएंगे।

Latest articles

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

Haryana के इस शख्स ने किया Bollywood के सुपरस्टार ऋतिक रोशन के साथ काम, इससे पहले भी कर चुके है कई फिल्मों में काम

प्रदेश के युवा या बुजुर्ग सिर्फ़ खेल या शिक्षा के मैदान में ही तरक्की...

More like this

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...