Online se Dil tak

मंत्री अनिल विज के कार्यालय से दस्तावेज लीक पर सीएम मनोहर का गर्म हुआ मिजाज, बोलें हर आरोपी पर गिरेगी गाज

सरकारी दफ्तरों से दस्तावेज लीक करने के मामलों में सख्त रुख अपनाते हुए अब हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज से लेकर सीएम मनोहर लाल खट्टर भी सख्त दिख रहें हैं।दरअसल, पिछले दिनों हुए गृह मंत्री अनिल विज के कार्यालय से गोपनीय दस्तावेज लीक करने के मामले में सरकार ने कड़ी कार्रवाई करते हुए आरोपी कर्मचारी को निलंबित कर दिया हैं।

गौरतलब है कि हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज के कार्यालय से अहम सूचनाएं लीक करने के आरोपी सहायक को शुक्रवार शाम सिविल सचिवालय में पकड़ा गया था। विज ने खुद डेढ़ घंटे तक सहायक का मोबाइल खंगाला था। उसमें सौ से अधिक दस्तावेजों के फोटो मिले। इसके बाद आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी कर्मचारी विज के कार्यालय में ही तैनात था। मामले में विज के निजी सचिव ने मुख्य सचिव विजय वर्धन को लिखित शिकायत की है।

मंत्री अनिल विज के कार्यालय से दस्तावेज लीक पर सीएम मनोहर का गर्म हुआ मिजाज, बोलें हर आरोपी पर गिरेगी गाज
मंत्री अनिल विज के कार्यालय से दस्तावेज लीक पर सीएम मनोहर का गर्म हुआ मिजाज, बोलें हर आरोपी पर गिरेगी गाज

वहीं इस तरह के मामलों पर अपने विचार व्यक्त करते हुए मुखमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा अब इस तरह के कार्यों में शामिल किसी भी अधिकारी व कर्मचारी को बख्शा नहीं जाएगा। सीएम ने सभी प्रशासनिक सचिवों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने विभागों में इस तरह के कर्मचारियों पर कड़ी नजर रखें। उन्होंने कहा कि यद्यपि कोई इस तरह k मामलों में कोई सामने आता है तो उस पर कड़ी कार्रवाई करें।

मंत्री विज ने उनके सात-आठ विभागों के अनेक अहम दस्तावेज लीक होने का संदेह जताया है। यहीं नहीं उन्होंने आशंका भी जताई कि उनके विभागों की अनुमोदित फाइलों के फोटो खींचकर यह कर्मचारी आगे भेजता था। वहीं दूसरी तरफ काम हो गया है,

मंत्री अनिल विज के कार्यालय से दस्तावेज लीक पर सीएम मनोहर का गर्म हुआ मिजाज, बोलें हर आरोपी पर गिरेगी गाज
मंत्री अनिल विज के कार्यालय से दस्तावेज लीक पर सीएम मनोहर का गर्म हुआ मिजाज, बोलें हर आरोपी पर गिरेगी गाज

यह कहकर वह उसके पैसे भी लेता रहा है। आगे चंडीगढ़ पुलिस विभिन्न एंगल से मामले की जांच कर रही है। दस्तावेजों को किसी और को भेजने के पीछे मकसद क्या था, ये भी पता लगाया जा रहा है। सीएफएसएल जांच में यह भी मामले सामने आएं कि आरोपी ने अब तक किस-किस को और कौन-कौन से दस्तावेज भेजे हैं।

Read More

Recent