Homeसो रहे पिता को बेटे ने उतारा मौत के घाट, वजह जानकार...

सो रहे पिता को बेटे ने उतारा मौत के घाट, वजह जानकार कहेंगे कि…

Published on

कलयुग चल रहा है। दुनिया में कोई किसी का अपना नहीं है। रिश्तों में किसी भी समय खटास आ सकती है। पिता का प्यार कभी भी भुलाया नहीं जा सकता है। जिसकी उंगली पकड़कर चलना सीखा, उसी की हत्या करवा दीये किसी कहानी की शीर्षक नहीं सच है। सबसे बड़े राज्य यूपी के औरैया में यह सनसनीखेज केस सामने आया है, जहां एक बेटे ने अपने पिता को केवल इसलिए मार डाला क्योंकि उन्होंने उसे प्रेमिका से बता करने से इंकार कर दिया था।

जो भी इस मामले को सुन रहा है यकीन नहीं कर पा रहा है जानकार। यह मामला यूपी के औरैया से सामने आया है, पिता का क़त्ल करने के पश्चात् से ही बेटा फरार चल रहा है।

सो रहे पिता को बेटे ने उतारा मौत के घाट, वजह जानकार कहेंगे कि...

बेटे ने अपने पिता को केवल इसलिए मार डाला क्योंकि उन्होंने उसे प्रेमिका से बता करने से इंकार कर दिया था। सबकी आत्मा झकझोर के रख दी है इस मामले ने। कोई भरोसा नहीं कर पा रहा है इस मामले पर। परिवार वालों का कहना है कि गर्लफ्रेंड से बात करने पर रोकने को लेकर पिता-बेटे के बीच अक्सर विवाद होता रहता था। फिलहाल लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है तथा अपराधी की खोज की जा रही है।

सो रहे पिता को बेटे ने उतारा मौत के घाट, वजह जानकार कहेंगे कि...

परिवार वालों का कहना है कि गर्लफ्रेंड से बात करने पर रोकने को लेकर पिता-बेटे के बीच अक्सर विवाद होता रहता था। यह मामला पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। ये केस औरैया के अजीतमल कोतवाली के भीखेपुर का है, जहां अरविंद कुमार अपने घरवालों बल्कि मेरठ में रक्तरंजित होते बाप-बेटे के रिश्तों की असलियत को उजागर करता है। ये केस औरैया के अजीतमल कोतवाली के भीखेपुर का है, जहां अरविंद कुमार अपने घरवालों के साथ रहते थे।

सो रहे पिता को बेटे ने उतारा मौत के घाट, वजह जानकार कहेंगे कि...

यह केस औरैया के अजीतमल कोतवाली के भीखेपुर का है। अपनी प्रेमिका के लिए ऐसा पाप करना बहुत ही बड़ी गलती है। पिता तो भगवान समान होता है उसके साथ ऐसा काम करना शायद ही कोई सही कहे।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...