HomeFaridabadअब मेट्रो में सफर के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत,DMRC शुरू...

अब मेट्रो में सफर के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत,DMRC शुरू कर रहा है यह नई सुविधा

Published on

क्या आप भी दिल्ली मेट्रो से सफर करते हैं, तो आपको अब मेट्रो का सफर करना अब पहले की तुलना में कही अधिक आसान हो जाएगा। क्योंकि अब आपको मेट्रो से सफर के लिए टोकन लेने या स्मार्टकार्ड रिचार्ज कराने की जरूरत नहीं रहेगी, अब मेट्रो में सफर के लिए आप किराये का भुगतान अपने बैंक के डेबिट या क्रेडिट कार्ड से आसानी से कर सकेंगे। आपको बता दे की दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की तरफ से इसके लिए लेटेस्ट ऑटोमेटिक फेयर मशीनें लगाई जा रही हैं।

अब मेट्रो में सफर के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत,DMRC शुरू कर रहा है यह नई सुविधा

इस नए नियम के आने के बाद आप स्मार्ट कार्ड के अलावा, डेबिट और क्रेडिट कार्ड, नियर फील्ड कम्युनिकेशन (एनएफसी), क्यूआर कोड-आधारित टिकटिंग मोबाइल फोन और पेपर क्यूआर टिकट के माध्यम से मेट्रो किराये दे सकेंगे। आपको बता दें कि इसके लिए डीएमआरसी ने चौथे चरण के दौरान 44 स्टेशनों पर स्वचालित किराया संग्रह यानी AFC सिस्टम इंस्टॉल करना शुरू कर दिया है,इससे जल्दी ही आपको ये सुविधा मिलेगी।इसके साथ ही मौजूदा स्टेशन पर लगे एएफसी गेटों को भी अपडेट किया जाएगा ।

अब मेट्रो में सफर के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत,DMRC शुरू कर रहा है यह नई सुविधा

डीएमआरसी के एक अधिकारी दारा बताया कि नए सिस्टम में कैशलेस और ह्यूमन एरर फ्री ट्रांजेक्शन के अलावा सेवाओं के अधिक डिजिटलीकरण को बढ़ावा मिलेगा। मेट्रो कॉर्पोरेशन एएफसी फर्मवेयर को भी अपग्रेड कर रहा है। साथ ही यात्री अपने क्रेडिट या डेबिट कार्ड को स्मार्ट कार्ड के रूप में इस्तेमाल कर सकेंगे। राजधानी में अभी सिर्फ एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर ही यह सुविधा है।

अब मेट्रो में सफर के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत,DMRC शुरू कर रहा है यह नई सुविधा

इन तरीके से दे सकेंगे किराया
स्मार्ट कार्ड
नेशनल कॉमन मॉबिलिटी कार्ड
मोबाइल आधारित एनएफसी
मोबाइल QR कोड आधारित टिकट
पेपर QR टिकट

अब मेट्रो में सफर के लिए कार्ड की नहीं होगी जरूरत,DMRC शुरू कर रहा है यह नई सुविधा

आपको बता दें कि अभी कोच्चि और नागपुर जैसे कुछ महानगरों में यह सुविधा है,लेकिन यहां पर विशेष बैंकों के डेबिट/क्रेडिट कार्ड ही लिए जाते हैं।डीएमआरसी की प्रणाली रुपे पोर्टल के माध्यम से सभी बैंकों से लेनदेन स्वीकार करेगी।नई प्रणाली मेट्रो नेटवर्क में अधिक ‘किराया क्षेत्र’ बनाने में भी मदद करेगी।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...