Homeबच्चें को जन्म देते ही दुनिया से चल बसी मां, अब बच्चे...

बच्चें को जन्म देते ही दुनिया से चल बसी मां, अब बच्चे को गोद में लेकर कॉलेज में पढ़ाने जाता है पिता

Published on

नवजात की परवरिश के लिए मां का होना बहुत जरूरी होता है। एक बच्चे के लिए उसके जीवन में मां-बाप का होना बहुत ही जरूरी है। क्योंकि बच्चे के लिए माता-पिता दोनों की ही अपनी-अपनी एक खास जगह होती है। लेकिन कभी हालात ऐसे हो जाते हैं कि मां को ही बाप की भूमिका भी निभानी पड़ती है तो कभी-कभी एक पिता को भी मां की तरह ही बच्चे का ख्याल रखना पड़ता है।

हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसे शख्स के बारे में जो न सिर्फ एक पिता है बल्कि एक मां का फर्ज भी अदा कर रहे हैं। इतना ही नहीं बल्कि यह एक शिक्षक भी है और अपने शिक्षक होने का फर्ज भी बहुत ही लाजवाब तरीके से पूरा कर रहे हैं।

बच्चें को जन्म देते ही दुनिया से चल बसी मां, अब बच्चे को गोद में लेकर कॉलेज में पढ़ाने जाता है पिता

इस शख्स की कहानी। आईएएस ऑफिसर अवनीश शरण ने हाल ही में कुछ तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की और इस शख्स के बारे में जानकारी दी। तस्वीरों में आप साफ तौर से देख सकते हैं कि, एक व्यक्ति अपने बच्चे को पेट पर लादे हुए बच्चों को पढ़ा रहा है। इस दौरान वह न सिर्फ बच्चों को शिक्षा प्रदान कर रहे हैं बल्कि अपने नन्हे बच्चे का ख्याल भी रख रहे हैं।

Image

दुनिया में हजारों ऐसे बच्चे भी होते हैं, जिन्हें मां का प्यार नसीब नहीं होता। इस बच्चे के साथ भी यही हुआ। तस्वीर को शेयर करते हुए अवनीश शरण ने कहा कि, “एक व्यक्ति जिनकी पत्नी अपने बच्चे को जन्म देते हुए इस दुनिया से चली गई और अकेले पिता रह गए। ऐसे में वे अपने बच्चे के लिए एक जिम्मेदार पिता बन गए हैं।” आगे उन्होंने कहा कि, “ऐसे मामलों में कई लोग छोटे बच्चे का पालन पोषण करने के लिए अपने काम से छुट्टी ले लेते हैं।

बच्चें को जन्म देते ही दुनिया से चल बसी मां, अब बच्चे को गोद में लेकर कॉलेज में पढ़ाने जाता है पिता

बच्चे के जन्म के साथ ही मां चल बसी। अब पेशे से टीचर पिता ही बच्चे के लिए मां की भूमिका भी निभा रहा है। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है।लोग काफी भावुक हो रहे हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...