Homeकहीं आप तो नहीं पी रहे इस तरह की लौकी का जूस?...

कहीं आप तो नहीं पी रहे इस तरह की लौकी का जूस? ICU जाने की आ जाएगी नौबत

Published on

सभी अपने को फिट रखना चाहते हैं। फिट रखने के लिए वह अलग – अलग काम करते हैं। एक्सरसाइज भी करते हैं। लौकी एक ऐसी सब्जी है जिसका सबसे अधिक सेवन गर्मियों में किया जाता है क्योंकि यह शरीर को ठंडा रखने में मदद करती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार कड़वी लौकी शरीर में जहर बनाने का काम करती है।

गर्मियों में शरीर को ठंडा रखना बहुत ही जरूरी होता है ताकि बीमारियों से दूर रहा जा सके। लेकिन कड़वी लौकी से पेट में दर्द, मितली, उल्टी, डायरिया, खून की उल्टी, शौच में खून आना, सदमा लगना और यहां तक की मौत भी हो सकती है। इस तरह के लक्षण महसूस होने पर डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए वरना ये बहुत गंभीर हो सकता है।

कहीं आप तो नहीं पी रहे इस तरह की लौकी का जूस? ICU जाने की आ जाएगी नौबत

लौकी खाने से पेट की समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है। लौकी को पोषक तत्वों का एक पावरहाउस माना जाता है। लौकी में मौजूद फाइबर, एंटी-ऑक्सीडेंट्स, विटामिन ए, विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम , जिंक, पोटैशियम और प्रोटीन शरीर को हेल्दी बनाए रखते हैं। आपको बता दें कि ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखने से लेकरसडायबिटीज और किडनी की बीमारियों के खतरे को कम करने में भी लौकी फायदेमंद है।

कहीं आप तो नहीं पी रहे इस तरह की लौकी का जूस? ICU जाने की आ जाएगी नौबत

इसे घिया या दूधी के नाम से भी जाना जाता है. डायबिटीज, हाइपरटेंशन और लिवर जैसी बीमारियों को कंट्रोल करने में लौकी बहुत कारगर मानी जाती है। लौकी का जूस पीने से फैटी लिवर की समस्या भी कम होती है। हालांकि, किसी भी चीज का ज्यादा इस्तेमाल हानिकारक साबित हो सकता है। कई बार लोग कुछ चीजों को शरीर के लिए अच्छा मानकार उसका अत्याधिक सेवन करने लगते हैं जो कि बिल्कुल सही नहीं है।

कहीं आप तो नहीं पी रहे इस तरह की लौकी का जूस? ICU जाने की आ जाएगी नौबत

हम सभी अपने दिन की शुरूआत सुबह के नाश्ते से करते हैं। लौकी काफी सेहतमंद होती है। अगर आप वजन को कंट्रोल करने के लिए खाने-पीनो को लेकर सोच रहे हैं तो सुबह के नाश्ते में लौकी के जूस का सेवन कर सकते हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...