Homeहाथ में किताब लिए ये मासूम बच्चा आज है फिल्म इंडस्ट्री का...

हाथ में किताब लिए ये मासूम बच्चा आज है फिल्म इंडस्ट्री का सुपरस्टार, मिले हैं 4 नेशनल अवार्ड

Array

Published on

बॉलीवुड सितारों की फैन फोल्लोविंग काफी ज़्यादा होती है। यह जनता के दिलों पर राज करते हैं। बॉलीवुड सेलिब्रिटी की अगर कोई फोटो सोशल मीडिया पर आ जाये तो वो थोड़े देर में ही वायरल हो जाती है, अगर किसी की बचपन की तस्वीर मिल जाये तो वो वायरल तो होती ही है साथ में लोग कमेंट भी करने लगते है। कलाकारों ने एक नया ट्रेंड चला रखा है वो किसी की बचपन की फोटो सोशल मीडिया पर शेयर करके ये पूछने लगते है की पहचान करो इस तस्वीर को।

कई ऐसे फैंस होते हैं जो उन्हें पहचान लेते हैं। कई ऐसे भी होते हैं जो नहीं पहचान पाते। अभी थोड़े दिन पहले एक सुपर स्टार की फोटो सामने आई है जिसको पहचान पाना सब के सर का दर्द बन गया है। कोई भी अब तक इस फोटो में सुपर स्टार को नहीं पहचान पाया है।

हाथ में किताब लिए ये मासूम बच्चा आज है फिल्म इंडस्ट्री का सुपरस्टार, मिले हैं 4 नेशनल अवार्ड

हो सकता है शायद आप इस फोटो में बैठे सुपरस्टार को पहचान सके। फोटो में आप देख सकते हैं। जिसमे एक मासूम सा दिखने वाला सुंदर सा बच्चा हाथ में किताब पकडे खड़ा है। इस बच्चे की मासूमियत को देख कर लोगो का दिल जीत लिया है। आप ही बताये इस फोटो में दिखने वाला बच्चा कौन है। नहीं पहचान पाए क्या तो हम ही बता देते है आपको इस बच्चे के बारे में जो हाथ में किताब लिए खड़ा है।

हाथ में किताब लिए ये मासूम बच्चा आज है फिल्म इंडस्ट्री का सुपरस्टार, मिले हैं 4 नेशनल अवार्ड

बॉलीवुड सेलेब्स की तस्वीरें आए दिन सोशल मीडिया पर वायरल होती रहती हैं। जिसकी आप तस्वीर देख रहे है ये और कोई नहीं आज के सुपर स्टार कमल हसन है और ये साउथ की फिल्म इंडस्ट्री के बेताज बादशाह रह चुके है। अगर हम बात करे कमल हसन के जीवन की तो कमल हसन ने अपनी जिंदगी में दो शादिया की थी। उनकी पहली शादी 1978 में हुई थी और वो भी गणपति से उसके बाद ये रिश्ता टूट गया और दूसरी शादी सारिका से की।

हाथ में किताब लिए ये मासूम बच्चा आज है फिल्म इंडस्ट्री का सुपरस्टार, मिले हैं 4 नेशनल अवार्ड

सारिका से भी इनकी शादी ज्यादा दिन नहीं चली और सारिका से कमल हसन की दो पुत्री हुई एक का नाम श्रुति हसन और दूसरी का नाम अक्षरा है। उनके करियर की बात करे तो कमल हसन ने हर भाषा में ही फिल्म की है चाहे वो कन्नड़ हो या फिर तेलुगु और हिंदी ही हो सब में अपने कलाकारी का जादू बिखेरा है ,

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...