Homeकभी थी कोचिंग टीचर, आज पति के साथ-साथ अरबतियों की लिस्ट में...

कभी थी कोचिंग टीचर, आज पति के साथ-साथ अरबतियों की लिस्ट में शामिल हुई Byju’s की को-फाउंडर

Published on

अगर कुछ अलग कर दिखाने का जज्बा हो तो कुछ भी नामुमकिन नहीं है इस दुनिया में। पिछले दिनों ही बिजनेस मैगजीन फोर्ब्स ने साल 2020 के सर्वाधिक धनी लोगों की लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म बायजू की को-फाउंडर दिव्या गोकुलनाथ का नाम भी शामिल हुआ है। बता दे, दिव्या का नाम भारत की सबसे कम उम्र की दूसरी सबसे धनवान हस्ती के रूप में शामिल किया गया है।

उनकी रचनात्मकता ने सभी को चौकाया है। बाईजू रवींद्रन की पत्नी दिव्या गोकुलनाथ की कुल संपत्ति 3.05 अरब डॉलर यानी 22.3 हजार करोड़ रुपए है। दिव्या की उम्र महज 34 साल है और वह भारत की सबसे दूसरी धनवान हस्ती के रूप में शामिल हो चुकी है।

कभी थी कोचिंग टीचर, आज पति के साथ-साथ अरबतियों की लिस्ट में शामिल हुई Byju’s की को-फाउंडर

इनकी किस्मत का खेल ऐसे ही नहीं चमका है। कड़ी मेहनत और लग्न के कारण इन्हे सफलता मिली है। कहा जाता है कि, दिव्या बायजू रवींद्रन के पास कोचिंग पढ़ने के लिए जाती थी लेकिन इन दोनों को प्यार हो गया और दोनों ने शादी रचा ली। इसके बाद इन्होंने बायजू जैसी कंपनी की स्थापना की और दिव्या अपने पति के साथ कंधे से कंधा मिलाकर इस कंपनी को ऊंचे मुकाम पर लेकर आई।

कभी थी कोचिंग टीचर, आज पति के साथ-साथ अरबतियों की लिस्ट में शामिल हुई Byju’s की को-फाउंडर

इतना ही नहीं बल्कि फॉर्ब्स की सूची में बाईजू रवींद्रन भी अपनी पत्नी के बाद सबसे कम उम्र के तीसरे भारतीय अरबपति बन गए हैं। बता दें, रविंद्रन ने साल 2011 में इस कंपनी की शुरुआत की थी। वही बात करें दिव्या के बारे में तो उनके पिता अपोलो अस्पताल में गुर्दा रोग विशेषज्ञ है जबकि उनकी मां दूरदर्शन में प्रोग्राम एग्जिकेटिव के तौर पर काम कर चुकी है।

कभी थी कोचिंग टीचर, आज पति के साथ-साथ अरबतियों की लिस्ट में शामिल हुई Byju’s की को-फाउंडर

दिव्या ने अपनी स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद बेंगलुरु के आरबी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से बायो टेक्नोलॉजी में बीटेक किया है। दिव्या ने साल 2008 में बच्चों को पढ़ाना शुरू किया था।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...