HomeUncategorizedआर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

आर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

Published on

हम जैसा सोचते हैं जरूरी नहीं की वैसा ही हमारे साथ हो। कई बार ऐसा होता है कि आप सोचते कुछ हैं और हो कुछ और ही जाता है। जैसे यूपी के फिरोजाबाद के रहने वाले राजकमल यादव के साथ हुआ। आज वो स्वास्थ्य विभाग की आयुष शाखा में तैनात विशेष सचिव IAS अफसर की कुर्सी पर कार्यरत हैं, लेकिन उनका सपना आर्मी ज्वाइन करना था। वक्त ने ऐसी फेर ली कि राजकमल यादव जो चाहते थे, उससे अलग ही दुनिया में पहुंच गए।

एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने अपनी सफलता का सारा श्रेय अपने माता-पिता को देते हुए अपनी कहानी बताई। राजकमल यादव साल 2013 बैच के IAS अफसर हैं। इसके पहले यह विशेष सचिव सचिवालय प्रशासन विभाग में तैनात थे।

आर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

राजकमल यादव अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता को देते हुए कहा कि पिता जी से उन्हें हमेशा प्रेरणा मिली जिसकी बदौलत आज वह IAS अधिकारी हैं। राजकमल यादव यूपी के फिरोजाबाद के रहने वाले हैं। उनका जन्म फिरोजाबाद जनपद के शिकोहाबाद में हुआ था। 6वीं क्लास तक की एजुकेशन गांव में ही हुई, जिसके बाद उन्होंने आगे की पढ़ाई के लिए लखनऊ के आर्मी स्कूल में एडमिशन लिया। इनके पिता कमल किशोर यादव ग्रामीण बैंक में जॉब करते थे।

आर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

आर्मी ज्वाइन करने का था सपना

इंटरव्यू के दौरान राजकमल बताते हैं कि आर्मी स्कूल में शुरू से ही देशभक्ति पर आधारित तमाम कल्चरल प्रोग्राम होते थे। वहां का माहौल कुछ इस तरह का था कि मन में शुरू से ही आर्मी में जाने का सपना पाल लिया था। साथ ही राजकमल ने चेन्नई में वेटेरनरी साइंस से ग्रेजुएशन किया है।

आर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

राजकमल बताते हैं कि जब वो UPSC का इंटरव्यू देने गए तो इंटरव्यू के दौरान उनसे पूछा गया कि आर्मी स्कूल में पढ़े हो तो आर्मी में क्यों नहीं गए। फिर उन्होंने जवाब दिया कि IAS और Army में से किसी एक को चुनने के लिए कहा जाए तो वह आर्मी को ही सिलेक्ट करेंगे। इस जवाब पर उन्होंने मेरी पीठ थप-थपाई और वो सिलेक्ट हो गए।

ग्रेजुएशन के दौरान शुरू की IAS की तैयारी

आर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

बता दें कि राजकमल दो भाइयों में सबसे बड़े हैं। उनकी पत्नी ज्योत्स्ना भी PCS Officer हैं। राजकमल बताते हैं कि वो क्रिकेट के बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं। इसके अलावा उनको बॉडी बिल्डिंग का भी शौक हैं। वह रोज सुबह घंटों जिम में पसीना बहाते हैं।

राजकमल आगे बताते हैं कि उन्होंने ग्रेजुएशन के दौरान ही IAS की तैयारी शुरू कर दी थी। कॉलेज से आने के बाद वो घंटों पढ़ाई के साथ ही जीएस और सिविल सर्विस से रिलेटेड अन्य सब्जेक्ट्स पढ़ा करते थे। उन्होंने परीक्षा की तैयारियों के लिए कभी किसी एक्सपर्ट या कोचिंग का सहारा नहीं लिया।

आर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

राजकमल बताते हैं कि उन्होंने वेटेरनरी साइंस (Veterinary Science) से ग्रेजुएशन किया है। इसलिए UPSC के इंटरव्यू में उनसे बीमारियों के बारे में पूछा जा रहा था। सामने बैठे एक सर समोसा खा रहे थे। उनसे पूछा गया कि पेट संबंधी बीमारियों के कुछ रीजन बताइए।

आर्मी का सपना देखने वाले राजकमल ऐसे बने IAS अधिकारी

तो उन्होंने जवाब दिया कि जो समोसा आप खा रहे हैं। सबसे ज्यादा पेट की बीमारियां ऐसी ही चीजें खाने से होती हैं। इस पर सभी ठहाका मारकर हंसने लगे। फिर उन्होंने उनसे कहा कि क्या आप भी खाओगे, तो राजकमल ने जवाब दिया कि वो बीमारियां नहीं खा सकते।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...