HomeFaridabadहरियाणा के लिए परेशानी बना दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे, इन शहरो के पंचर...

हरियाणा के लिए परेशानी बना दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे, इन शहरो के पंचर हुए सीवर व्यवस्था

Published on

अब देश की सबसे बड़ी परियोजना दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस हाईवे के निर्माण से लाखों लोगों को रोजगार मिलने की संभावना जताई जा रही है। वहीं साथ ही इस परियोजना से फरीदाबाद के लोगों को काफ़ी परेशानी का भी सामना करना पड़ रहा हैं।साथ ही बता दें कि दिल्ली से आरंभ होकर मुंबई तक जाने वाली इस परियोजना को लेकर फरीदाबाद में भी बड़े पैमाने पर निर्माण कार्य बड़े जोरों से चल रहा हैं। और इन निर्माण कार्यों के कारण से फरीदाबाद में बाईपास पर कई सीवर लाईनें पंचर कर दी गई हैं, और इन लाईनों के टूटने की वजह से फरीदाबाद बाईपास के साथ सटे सैक्टर एरिया में लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बता दें कि ये एक्सप्रेस वे दिल्ली से शुरू होकर हरियाणा के फरीदाबाद-बल्लभगढ़ से होते हुए मुंबई तक बनाया जा रहा है। और साथ ही इसके लिए फरीदाबाद में बिजली के खंबे शिफ्ट किए जा रहे हैं। लाईनों को हटाया जा रहा है और साथ ही कई पुलों के निर्माण की योजना है।

हरियाणा के लिए परेशानी बना दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे, इन शहरो के पंचर हुए सीवर व्यवस्था

और इन निर्माण कार्यों की वजह से ही कई स्थानों पर सीवर लाईनों के टूटने की शिकायते इसकी वजह से सैक्टरों में रहने वाले लोगों को बहुत सारी समस्या का सामना करना पड़ रहा हैं। इसके साथ ही एक्सप्रेस के जरिए दिल्ली से मुंबई पहुंचने के लिए 12 घंटे का समय लगने का दावा किया जा रहा है,और अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए नोएडा एयरपोर्ट से एक्सप्रेस वे को जोड़ा जा रहा है तथा यह देश के 6 राज्यों से होते हुए मुंबई पहुंचेगा।

फिहाल की दिक्कत की बात करी जाए तो, इसके निर्माण को लेकर स्थानीय स्तर पर समस्याएं भी आंरभ हो गई हैं। और इन्हीं समस्याओं को लेकर हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने मंगलवार को फरीदाबाद के लघु सचिवालय में प्रशासन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के सभी अधिकारियों को भी तलब कर लिया और साथ ही उनकी बैठक लेते हुए सभी को सख्त हिदायत दी गई कि मुंबई एक्सप्रेस वे की वजह से फरीदाबाद व बल्लभगढ़ में रहने वाले लोगों को मूलभूत सुविधाओं में परेशानी नहीं होनी चाहिएं।

हरियाणा के लिए परेशानी बना दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे, इन शहरो के पंचर हुए सीवर व्यवस्था

और साथ ही उनके पास लगातार शिकायत पहुंच रही हैं कि अधिकारी उनकी बात नहीं सुन रहे। इसलिए वह इस बैठक के माध्यम से इन शिकायतों का समाधान करने का निर्देश दे रहे हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...