Homeहार्ट अटैक आने से पहले शरीर देता है ये संकेत, भूल कर...

हार्ट अटैक आने से पहले शरीर देता है ये संकेत, भूल कर भी न करें इगनोर

Published on

सिद्धार्थ शुक्ला का हाल ही में हार्ट अटैक के कारण निधन हो गया। दिल से जुडी समस्या काफी अधिक देखने को मिल रही हैं। दुनिया में कुछ ऐसे लोग है जो कि अचानक हार्ट अटैक आने के कारण मौत का शिकार हो जाते है, और इस लिस्ट में अगर बॉलीवुड हस्तियों की बात की जाएँ तो कुछ गलत नहीं होगा, क्‍योंकि पिछले कुछ महीनो में बहुत सी ऐसी बॉलीवुड हस्तियां थी, जिनकी मौत हार्ट अटैक के कारण ही हुई थी।

हार्ट अटैक आने से पहले शरीर में कुछ बदलाव होने लगते है। ऐसे में हार्ट अटैक आने से एक महीना पहले ही शरीर हमें इसके संकेत देने लगता है, जिसे हम नहीं समझ पाते और आज आपको इन्ही संकेतों से अवगत कराने वाले है।

विशेषज्ञों की मानें तो 40 साल और उससे कम उम्र के लोगों में अचानक कार्डियेक अरेस्ट के मामले बढ़े हैं। हमें निचे दिए गए संकेतों का ध्यान रखना चाहिए।

हार्ट अटैक आने से पहले शरीर देता है ये संकेत, भूल कर भी न करें इगनोर

पहला : इस स्थिति को समझना हमारे लिए बेहद ही ज़रूरी है। हार्ट अटैक आने से पहले छाती के साथ साथ शरीर के अन्य हिस्सों में भी दर्द हो सकता है, अब ये तो आपको पता ही होगा, कि जकड़न हार्ट अटैक का मुख्य लक्षण है, इसलिए यदि आप भी छाती या उसके आस पास शरीर के किसी भी अंग में दर्द और जकड़न महसूस करे, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाकर अपनी जांच करवाएं।

हार्ट अटैक आने से पहले शरीर देता है ये संकेत, भूल कर भी न करें इगनोर

दूसरा : अगर पाचन तंत्र से जुडी किसी परेशानी का सामना कर रहे है तो इसे बिलकुल भी नजरअंदाज न करे, वो इसलिए क्‍योंकि यह भी हार्ट अटैक का एक लक्षण हो सकता है, ऐसे में छोटी सी लापरवाही भी आपके लिए खतरा बन सकती है, इसलिए तुरंत डॉक्टर के पास जाए और उन्हें अपनी परेशानी से अवगत करायें।

तीसरा: हमेशा स्‍वयं को थका हुआ महसूस करना या साँस लेने में तकलीफ होना भी हार्ट अटैक का ही एक लक्षण है, वैसे इस तरह की परेशानी अक्सर महिलाओ में ही अधिक देखने को मिलती है, ऐसे में इस लक्षण को नजरअंदाज करने की गलती बिलकुल न करे और फ़ौरन डॉक्टर को दिखाने जाए।

हार्ट अटैक आने से पहले शरीर देता है ये संकेत, भूल कर भी न करें इगनोर

चौथ: यदि आपकी नब्ज और धड़कन कई दिनों से लगातार तेज दौड़ रही है तो इसे मामूली सी बात समझ कर नजरअंदाज न करे और डॉक्टर को अवश्‍य दिखाएं, वो इसलिए क्‍योंकि ये भी हार्ट अटैक का ही एक लक्षण है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...