Homeमाँ के सामने जिंदा जल गई 5 महीने की मासूम, कोई मदद...

माँ के सामने जिंदा जल गई 5 महीने की मासूम, कोई मदद को नहीं आया, सब Video बनाते रहे

Published on

किसी भी मां के लिए वह पल सबसे ख़राब होते हैं जब आँखों के सामने बच्चे की मौत हो जाये। आज के इस कलयुग में किसी को दूसरे की परवाह नहीं होती है। आलम ये है कि यदि आप किसी मुसीबत में फंसे हो तो लोग आपकी मदद करने की बजाय उसका वीडियो बनाने लग जाएंगे। अब ऐसा ही कुछ एक अभागी मां के साथ भी हुआ। उसकी आँखों के सामने 5 माह की बेटी जिंदा जल गई।

उस मां का दर्द किसी ने नहीं समझा। इतना ही नहीं बल्कि वह मदद के लिए चीखती-चिल्लाती रही, लेकिन उसकी हेल्प करने कोई भी आगे नहीं आया। बेबस मां चाहकर भी अपनी बच्ची को नहीं बचा सकी।

माँ के सामने जिंदा जल गई 5 महीने की मासूम, कोई मदद को नहीं आया, सब Video बनाते रहे

किसी ने उसकी मदद करने का विचार नहीं किया। यह मामला काफी मार्मिक है। यह भयानक हादसा बुधवार सुबह राजस्थान के बाड़मेर जिले में जोधपुर हाइवे पर हुआ। यहां बस और ट्रेलर के बीच जबरदस्त भिड़ंत हो गई। बस में करीब 45 संवारियाँ थी, जिनमें से 12 कुछ ही पलों में मौत के मुंह में समा गई। वहीं 38 लोग गंभीर रूप से घायल हुए। मौत का यह भयानक मंजर जिसने भी देखा उसके रोंगटे खड़े हो गए।

माँ के सामने जिंदा जल गई 5 महीने की मासूम, कोई मदद को नहीं आया, सब Video बनाते रहे

जैसे ही यह हादसा हुआ लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। सखी नाम की महिला ने बताया कि वह बुधवार सुबह बालोतरा अपने ससुराल से जोधपुर मायके जाने के लिए बस मैं बैठी थी। उसका जोधपुर जाने का मन नहीं था, लेकिन फिर भी वह बैठ गई। बस खचाखच भरी थी, उसे जैसे तैसे बैठने की एक जगह मिली। उसके बैठने के बाद बस लगभग 15 से 20 किलोमीटर दूर भांडियावास पास आई ही थी कि सामने से आ रहे एक ट्रेलर ने टक्कर मार दी।

माँ के सामने जिंदा जल गई 5 महीने की मासूम, कोई मदद को नहीं आया, सब Video बनाते रहे

टक्कर इतनी भयानक थी कि बस ने आग पकड़ ली। लोग इधर उधर भागने लगे। कुछ संवारियाँ बस में गिर गई तो कुछ नीचे पड़ी रही। लोग भगदड़ में बस से बाहर नहीं निकल पा रहे थे। हर कोई चीख रहा था, लेकिन मदद करने वाला कोई नहीं था।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...