HomeFaridabadसतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र द्वारा बाल दिवस के उपलक्ष में विशेष...

सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र द्वारा बाल दिवस के उपलक्ष में विशेष कार्यक्रम एवं पुरस्कार वितरण समारोह

Published on


आज भूपानी स्थित सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र में बाल दिवस एवं वितरण कार्यक्रम आयोजित किया।
मुख्य अतिथि के रूप में पधारी सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र की चेयरपर्सन श्रीमती अनुपमा तलवार व विशिष्ट अतिथि श्री सुमित कपूर राजीव नागपाल मैनेजर श्रीमती शशि वर्मा एवं सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र के प्रधानाचार्य दीपेंद्र कांत भी उपस्थित रहे ।
कार्यक्रम के प्रारंभ में सुमित कपूर ने मुख्य अतिथि का पुष्प गुच्छ द्वारा स्वागत किया तत्पश्चात सभी अतिथियों ने मिलकर दीप प्रज्वलन किया।

सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र द्वारा बाल दिवस के उपलक्ष में विशेष कार्यक्रम एवं पुरस्कार वितरण समारोह


सतयुग दर्शन संगीत कला केन्द्र के बच्चों ने ईश्वर वंदना गाकर तथा अपनी विभिन्न प्रस्तुतियों से समा बांध दिया।
बाल दिवस के बारे में सतयुग दर्शन संगीत कला केन्द्र के प्रधानाचार्य श्री दीपेंद्र कान्त जी ने बच्चों को बताया कि ऐसा कहा जाता है बच्चे भगवान का रूप होते है और यही सच है क्योंकि बच्चे बेहद मासूम होते है। हर साल 14 नवंबर को ‘बाल दिवस’ (Children’s Day) के रूप में मनाया जाता है। यह दिन पुरे देश में बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है। दरअसल 14 नवंबर को देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन होता है।
पंडित जवाहरलाल नेहरू को बच्चे अधिक प्रिय थे इसलिए इनके जन्मदिन यानी जयंती को पूरे राष्ट्र में ‘बाल दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र द्वारा बाल दिवस के उपलक्ष में विशेष कार्यक्रम एवं पुरस्कार वितरण समारोह


इस अवसर पर सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र की चेयरपर्सन श्रीमती अनुपमा तलवार जी द्वारा प्रयाग संगीत समिति से इस वर्ष प्रथम स्थान में उत्तीर्ण हुए विद्यार्थियों को अंकपत्र तथा पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया, उन्होंने बच्चों को सदैव आगे बढ़ते रहने तथा जीवन सदैव सन्मार्ग पर चलने का संदेश दिया |
इस अवसर पर गायन वादन शिक्षक श्री केशव शुक्ला एवं संजय बिडलान व नृत्य शिक्षिका रुपाली वैश भी उपस्थित रहे।

सतयुग दर्शन संगीत कला केंद्र द्वारा बाल दिवस के उपलक्ष में विशेष कार्यक्रम एवं पुरस्कार वितरण समारोह


तत्पश्चात राष्ट्रीय गान के बाद इस कार्यक्रम की समाप्ति हुई। कार्यक्रम का मंच संचालन केशव शुक्ला ने किया।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...