Online se Dil tak

फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह

जिंदगी में हर किसी को एक बार प्यार जरूर होता है। जिस इंसान ने अपनी जिंदगी  में प्यार नही किया, उसका जीवन अधूरा है। प्यार को एक्सप्लेन करना बहुत मुश्किल है। हर व्यक्ति के लिए प्यार का मतलब अलग होता है। प्यार के प्रति लोगों की अपनी-अपनी सोच हो सकती है, लेकिन प्यार तो प्यार होता है। ऐसा भी कहा जाता है कि प्यार अंधा होता है। इसकी आंखें नहीं होती, लेकिन इसके पंख जरूर होते है। अक्सर आपने देखा होगा जो एक दूसरे से प्यार करते हैं, वह एक दूसरे के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार होते हैं। ऐसा ही एक मामला आज हम आपको सुनाने वाले हैं।

जैसा की आप सभी को पता ही है कि शादियों का सीजन चल रहा है। हर जगह शादियां हो रही है। लोग इस के पवित्र बंधन में रोजाना बंद रहे हैं। इसी बीच बिहार में हुई एक शादी बहुत सुर्खियों में चल रही है।  इस शादी की चर्चा इसलिए हो रही है क्योंकि इसमें एक शख्स भारत का है और जिससे उसकी शादी हुई है वह सात समुंदर पार विदेश की है।

फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह
फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह

जिस मामले के बारे में हम आपको जानकारी देने वाले हैं वह बिहार के बेगूसराय का है। यहां पर फ्रांस से रहने वाली एक लड़की को भारत के एक लड़के से प्यार हो गया और उसके बाद उसने उससे शादी कर ली। जी हां आप बिल्कुल सही सुन रहे हैं, फ्रांस के पेरिस में रहने वाली एक लड़की सात समुंदर पार करके भारत आए ताकि वह यहां कर शादी कर सके।

फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह
फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह

सूत्रों की माने तो फ्रांस की रहने वाली मैरी लौर हेरल का बिहार के बेगूसराय के रहने वाले राजेश कुमार के साथ चक्कर चल रहा था। और एक खास बात आपको बता दे, उन दोनो ने अपनी परिवार की मंजूरी लेकर शादी की थी। लड़की के माता पिता भी इस शादी में शामिल हुए थे।

फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह
फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह

इन दोनो ने पूरे धूम धाम से सारे हिन्दू रीति रिवाज से शादी की थी। जब बिहार के दूल्हा और विदेश की दुल्हन शादी कर रहे थे, तो उन्हे देखने के लिए पूरे गांव वाले इकट्ठा हो गए थे। जब शादी खत्म हो गई उसके बाद रिश्तेदारों की भी दुल्हन को देखने के लिए भारी भीड़ इखट्टा हो गए।

फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह
फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह

आपको बता दे मैरी एक बिजनेसमैन है इसलिए शादी करने के बाद वह दोनो विदेश वापस चले जाएंगे। दूल्हे के पिता रामचंद्र साह का ऐसा कहना है कि उनका बेटा राकेश दिल्ली में रहकर देश के विभिन्न हिस्सों में टूरिस्ट गाइड का काम करता था।

फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह
फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह

रामचंद्र शाह ने आगे बताया की करीब 6 साल पहले मैरी भारत घूम आईं थी। तब राजेश के साथ उनकी मुलाकात हुई थी। भारत से अपने देश जाने के बाद दोनों के बीच कब प्यार हुआ इसके बारे में किसी को नहीं पता। उन्होंने बताया करीब 3 साल पहले उनका बेटा भी पेरिस गया था। वहा उसने मैरी के साथ मिलकर पार्टनरशिप में कपड़ो का बिजनेस किया। जहा से उनके बीच का रिश्ता और गहरा हो गया।

फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह
फ्रांस की गोरी मैम बिहार के बाबू को दे बैठी अपना दिल, सात समुंदर पार आकर किया विवाह

जब इन दोनों के प्यार के बारे में मैरी के परिवार वालों को पता चला, तो वह रिश्ते के लिए झट तैयार हो गए। मैरी को भारतीय संस्कृति बहुत पसंद है इसलिए भारत में आकर शादी करने का फैसला लिया। उसके बाद मैरी के माता-पिता भी राजेश के गांव पहुंचे और फिर भारतीय परंपरा संस्कृति से दोनों का विवाह हुआ।

Read More

Recent