Online se Dil tak

21 वर्षो से पुलिस की आंखों में धूल झोंक रही बावरिया गिरोह की महिला डकैत को क्राइम ब्रांच ने दबोचा

जुर्म और झूठ कभी न कभी पकड़ा ही जाता हैं, चाहे कितना ही समय क्यों न बीत जाए। ऐसा ही कुछ हुआ जब 21 वर्षों से पुलिस को चकमा दे रही बावरिया गिरोह की महिला डकैत को क्राइम ब्रांच की टीम ने गिरफ्तार किया। दरअसल, लूट के एक मामले में जब महिला डकैत को अन्य साथियों संग जेल भेजा गया था तो पैरोल पर छूट कर आने के बाद वह मिस्टर इंडिया ही बन गई थी जिसके बाद से पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की हुई थी।

डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान ने बताया कि बावरिया डकैत गिरोह की महिला सदस्य ज्ञानवती राजस्थान के भरतपुर की रहने वाली है। पलवल जिले के फुलवाड़ी गांव में उसकी ससुराल है।

21 वर्षो से पुलिस की आंखों में धूल झोंक रही बावरिया गिरोह की महिला डकैत को क्राइम ब्रांच ने दबोचा
21 वर्षो से पुलिस की आंखों में धूल झोंक रही बावरिया गिरोह की महिला डकैत को क्राइम ब्रांच ने दबोचा

वर्ष 1996 में गिरोह की महिला साथी कमला, केला और अपने पति लक्ष्मी एवं अन्य दो-तीन साथियों के साथ मिलकर पर्वतिया कॉलोनी क्षेत्र में एक घर में लूट की वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी महिला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। उसके बाद तीनों महिला आरोपी जेल से पैरोल पर छूट कर आई थीं।

पैरोल का समय पूरा होने के बाद वह वापस जेल नहीं गईं। तभी से पुलिस उनकी तलाश में जुटी थी। वहीं अदालत ने उनकी गिरफ्तारी के लिए आदेश जारी किए थे। गिरफ्तारी से बचने के लिए ज्ञानवती जगह बदल-बदल कर रह रही थी।

21 वर्षो से पुलिस की आंखों में धूल झोंक रही बावरिया गिरोह की महिला डकैत को क्राइम ब्रांच ने दबोचा

क्राइम ब्रांच 48 की टीम ने गुरुग्राम ताजपुर गांव के पास से गिरफ्तार कर लिया। मामले में अन्य आरोपी महिला कमला की मृत्यु हो चुकी है। वहीं आरोपी केला देवी अभी भी फरार चल रही है। फिलहाल पुलिस ने ज्ञानवती को अदालत में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

Read More

Recent