HomeGovernmentजेल में बंद है पति, पत्नी बनना चाहती हैं मां, हाईकोर्ट से...

जेल में बंद है पति, पत्नी बनना चाहती हैं मां, हाईकोर्ट से लगाई अनोखी गुहार

Published on

पंजाब हरियाणा हाइकोर्ट में एक अनोखा मामला सामने आया है जिसमे एक महिला बनना चाहती है लेकिन इस महिला का पति जेल में सजा काट रहा है इसको लेकर उस महिला ने हाईकोर्ट से गुहार लगाई गई की वह अपने पति के वंश को बढ़ाना चाहती है इस मांग पर कोर्ट ने सरकार से पूछा की क्या ऐसा कोई नीति है। हरियाणा सरकार नियमत सुनवाई पर अपना पक्ष रखेंगी

याचिकाकर्ता ने कहा की उसका पति हत्या के मामले में दोषी करार किया गया है उसका पति 28 अगस्त 2018 से गुरुग्राम की भोंडसी जेल में बंद है वही याचिकाकर्ता का कहना है की सभी को स्वंत्रता से जीने का अधिकार है इन्ही अधिकारों के मद्देनजर वंश का अधिकार भी आता है

जेल में बंद है पति, पत्नी बनना चाहती हैं मां, हाईकोर्ट से लगाई अनोखी गुहार

यह अधिकार किसी जेल में बंद व्यक्ति से नहीं छिना जा सकता जसवीर सिंह केस का हवाला देते हुए हाई कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कहा था कि उस मामले में दोनो पति पत्नी जेल में बंद थे वो दोनो निसंतान थे उन्होंने भी इस तरह की मांग की गई थी।

जेल में बंद है पति, पत्नी बनना चाहती हैं मां, हाईकोर्ट से लगाई अनोखी गुहार

हाइकोर्ट ने इस बात पर सवाल किया की क्या हाईकोर्ट ने सवाल उठाया था कि क्या हिरासत की स्थिति में किसी को वंश वृद्धि का अधिकार दिया जा सकता है। हाईकोर्ट का उत्तर सकारात्मक था और कोर्ट ने सरकार को आदेश दिया था कि इस विषय पर नीति बनाने को लेकर आवश्यक निर्णय लिया जाए। याची ने कहा कि उसके साथ भी परिस्थिति लगभग ऐसी ही है और संविधान के दिए इस अधिकार को उससे छीना न जाए। 

जेल में बंद है पति, पत्नी बनना चाहती हैं मां, हाईकोर्ट से लगाई अनोखी गुहार

हाईकोर्ट ने पिछली सुनवाई पर हरियाणा सरकार से इस पर जवाब मांगा तो हरियाणा सरकार की ओर से कहा गया कि वह इस मामले में गृह विभाग के एसीएस से राय के बाद ही कुछ बता सकते हैं। हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार से पूछा था कि क्या राज्य में ऐसी कोई नीति मौजूद है, यदि नहीं मौजूद है तो क्या इस दिशा में कानूनी रूप से कुछ कदम उठाया जा सकता है। मंगलवार को मामला सुनवाई के लिए पहुंचा तो हाईकोर्ट ने कहा कि फिलहाल नियमित सुनवाई नहीं हो रही है। हाईकोर्ट ने सुनवाई 27 जनवरी के लिए तय करते हुए कहा कि नियमित बेंच ही इस याचिका पर सुनवाई करेगी। 

जेल में बंद है पति, पत्नी बनना चाहती हैं मां, हाईकोर्ट से लगाई अनोखी गुहार

हाइकोर्ट ने पिछली सुनवाई पर हरियाणा सरकार से इस पर जवाब मांगा तो हरियाणा सरकार की ओर से कहा की वह इस मामले में गृह विभाग एशिएस से राय के बाद ही कुछ जवाब दे पाएंगी हाइकोर्ट ने सरकार से सवाल पूछा की क्या ऐसा कोई प्रावधान है यदि नही है तो इस बारे में कानूनी कदम उठाया जा सकता है ।हालांकि अभी यह मामला कोर्ट में विचाराधीन था लेकिन अभी कोर्ट में सुनवाई नहीं हो रही है लेकिन 27 जनवरी को। इस मामले में सुनवाई हो सकती है

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...