Online se Dil tak

हरियाणा सरकार ने सीवर सफाई कर्मचारियों के लिए की बड़ी घोषणा, बदलेगा सफाई का तरीका

हरियाणा सरकार ने सीवर सफाई कर्मचारियों के लिए एक बड़ी घोषणा की है जिसमें इन सभी के काम करने का तरीका बदल दिया गया हैं हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग को सभी नगर पालिका और नगर निगम पालिकाओं में सीवरेज की सफाई करने वाली मशीनें लाने की घोषणा की गई है वही यह मशीनें रोटेशन आधार पर उपलब्ध कराई जाएंगी

उन्होंने कहा की जिस जगह पुरानी प्राणली से काम होता है उसे बदलना होगा और नई तकनीक के हिसाब से सफाई कराई जाएगी यहा आधारित मशीनों के साथ सफाई की जाएगी वही जिस जगह नई सफाई व्यवस्था है वहा अत्याधुनिक रोबोटिक तरीके से सफाई कराई जाएगी

हरियाणा सरकार ने सीवर सफाई कर्मचारियों के लिए की बड़ी घोषणा, बदलेगा सफाई का तरीका
हरियाणा सरकार ने सीवर सफाई कर्मचारियों के लिए की बड़ी घोषणा, बदलेगा सफाई का तरीका

मुख्यमंत्री ने मंगलवार को मैनुअल स्कैवेंजिंग एक्ट पर गठित राज्य निगरानी समिति की बैठक ली। इसमें उन्होंने जोर दिया कि विभाग इस तरह रोटेशन प्रणाली अपनाए कि हर निगम व नगर पालिका में मशीनों से समयबद्ध सीवरेज सफाई की जा सके।

पुराने तरीके से हो जाती थी सफाई कर्मचारियों की मौत

सीवरेज सफाई करते समय सीवर मैन की मौत होने पर उनके परिवार को 10 लाख रुपए की सहायता राशि दी जा रही है वही अभी तक प्रदेश में 57 सीवरमैन के परिवारों को सहायता राशि दी सहायता राशि दी जा चुकी है साथ इस सफ़ाई कार्य में लगी निजी कंपनियां अगर सहायता राशि देने में आनाकानी करती है तो उनके खिलाफ कारवाही की जा सकती हैं

हरियाणा सरकार ने सीवर सफाई कर्मचारियों के लिए की बड़ी घोषणा, बदलेगा सफाई का तरीका

मैनुअल सफाई करने पर लगे प्रतिबंध

बता दें कि सीएम ने कहा कि प्रदेशभर में मैनुअल तरीके से सीवरेज की सफाई करना प्रतिबंधित है. ऐसे में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग लगातार सफाई कर्मचारियों को अत्याधुनिक यंत्रों से सफाई करने का ट्रेनिंग दे रहा है. वहीं, मैनुअल तरीके से सफाई पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के लिए ही एक्ट बनाने के साथ-साथ राज्य निगरानी समिति का गठन किया गया है. उन्होंने कहा कि तय समय पर इस समिति की बैठक होनी चाहिए, जिससे जरूरी फैसले लिए जा सकें.

Read More

Recent