Online se Dil tak

वैज्ञानिकों के शोध के अनुसार जल्द खत्म होने वाली है दुनिया, पृथ्वी के अंत की तारीख और वजह जानकर दाँतो तले दबा लेंगे उँगली

वैज्ञानिकों के शोध के अनुसार जल्द खत्म होने वाली है दुनिया, पृथ्वी के अंत की तारीख और वजह जानकर दाँतो तले दबा लेंगे उँगली :- आज वैज्ञानिक की भूमिका काफी अहम हो गई है हमारे दुनिया में, वहीं ऐसा माना जाता है की इनके द्वारा किए गए आविष्कार और शोध में ही हमारा भविष्य टिका हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें, अभी हाल ही में वैज्ञानिकों ने पृथ्‍वी का अंत होने का दावा किया है

इसके अलावा, उनके द्वारा धरती के खत्‍म होने की तारीख और वजह भी बताई गई हैं। आपको लग रहा होगा, क्या यह सच है, और क्या यह सच में होने वाला है, तो चलिए जानते है इससे रिलेटेड पुरी बात।

वैज्ञानिकों के शोध के अनुसार जल्द खत्म होने वाली है दुनिया, पृथ्वी के अंत की तारीख और वजह जानकर दाँतो तले दबा लेंगे उँगली
वैज्ञानिकों के शोध के अनुसार जल्द खत्म होने वाली है दुनिया, पृथ्वी के अंत की तारीख और वजह जानकर दाँतो तले दबा लेंगे उँगली

आपको बता दें वैज्ञानिको ने दावा किया है कि पृथ्‍वी का अंत का कारण सूरज बनेगा, वहीं उनका कहना है की कुछ वर्षो बाद सूरज फट जाएगा और इसके पीछे कारण है सूरज में मौजूद हाइड्रोजन कोर का काम करना बंद करना।

इसी दौरान यह सूर्य के पड़ोसी ग्रहों को निगलने लगेगा, जिसमें बुध और शुक्र के साथ साथ पृथ्‍वी भी शामिल है, और इसकी तारीख पांच अरब वर्ष बाद की बताई गई हैं।

इस पर वैज्ञानिकों ने सलाह दी है कि ऐसे ग्रह का पता लगाया जाना चाहिए जहां मनुष्‍य सुरक्षित रह सके, यहीं नही इस तबाही से पहले उस ग्रह में बसाने की तैयारी भी की जानी चाहिए।

वैज्ञानिकों के शोध के अनुसार जल्द खत्म होने वाली है दुनिया, पृथ्वी के अंत की तारीख और वजह जानकर दाँतो तले दबा लेंगे उँगली
वैज्ञानिकों के शोध के अनुसार जल्द खत्म होने वाली है दुनिया, पृथ्वी के अंत की तारीख और वजह जानकर दाँतो तले दबा लेंगे उँगली

शोध के अनुसार, भविष्य में खरबों वर्षों में गैस का ज्वलनशील गोला खत्म होने वाला है, वहीं सूर्य अभी अपने जवानी के चरण पर है जिसे इसके ‘मुख्य अनुक्रम’ के रूप में जाना जाता हैं।

लाइव साइंस के मुताबिक बात करे तो , खगोल वैज्ञानिक पाओलो टेस्टा ने कहा है की सूर्य एक प्रकार का मध्यम आयु वर्ग का तारा है जो पांच अरब साल से थोड़ा कम पुराना हैं।

वहीं नासा के अनुसार एक तारा जितना बड़ा होता है, उसका जीवन उतना ही छोटा होता है, उसी के मुताबिक सूर्य का जीवन 10 अरब वर्ष या उससे अधिक के क्रम का होने वाला हैं।

Read More

Recent