HomeUncategorizedजानिए एक छोटे से किसान ने कैसे कमाए करोड़ो रुपए और बदल...

जानिए एक छोटे से किसान ने कैसे कमाए करोड़ो रुपए और बदल डाली अपनी किस्मत

Published on

आंवला नवमी का यह पर्व प्रकृति के प्रति आभार जताने के लिए मनाया जाता है। आज हम आपको राजस्थान के भरतपुर जिले के एक किसान के बारे में बताने जा रहें हैं, जिसने आंवले के बागान से खूब नाम कमाया। यह एक ऐसा गांव है, जहा के अधिकतर लोग के पास घर हीं काम है यहां कोई राेजगार या धंधे से जुड़े नहीं हैं।

इस किसान का नाम अमर हैं, वह सन् 1996-97 के वक्त उसके आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी, उसके पास घर चलाने तक के पैसे नहीं थें, यह किसान उस समय परिवार का पेट जैसे–तैसे गेहूं-सरसों की खेती और माल ढुलाई के लिए छोटे वाहन चला कर करता था।

जानिए एक छोटे से किसान ने कैसे कमाए करोड़ो रुपए और बदल डाली अपनी किस्मत

अक्सर अमर अपनी घर की स्थिती देख परेशान रहता था। एक दिन जब गाड़ी लेकर अमर कहीं निकला तो उसे अचानक भूख लगी, तो वह कुम्हेर बाजार में एक दुकान पर बैठकर समोसा खरीदकर खाने लगा, तभी खाने के बाद अमर ने
समोसा के साथ मिली अखबार के टुकड़े को पढ़ने लगा और तभी उन्हें आंवले के फायदे के बारे में पता चला और तो फिर अमर ने आंवले की खेती करने का फैसला किया, इस आइडिए के बारे में जानकर पहली उनकी मां और पत्नी को बताया तो पहले उनलोगो ने करने से मना किया।

जानिए एक छोटे से किसान ने कैसे कमाए करोड़ो रुपए और बदल डाली अपनी किस्मत

आंवले की खेती शुरु करने में सबसे पहली समस्या उसके पौधों को लाना, जो जल्दी कहीं से प्राप्त नहीं होता, तभी खेती डिपार्टमेंट में तत्कालीन सुपरवाइजर रहे सुबरण सिंह ने अमर की मदद कर उसे 19 रुपए एक पौधे के हिसाब से आंवले के कई पौधे दिए।

जानिए एक छोटे से किसान ने कैसे कमाए करोड़ो रुपए और बदल डाली अपनी किस्मत

फिर क्या था, अमर के परिवार ने दिन-रात मेहनत कर 6 बीघा जमीन पर आंवले का पौधा लगा दिया और अपनी नई शुरुवात की इस पुरे खेती को देखने बॉर्टीकल्चर डिपार्टमेंट के लोग भी पहुँच गए।

जानिए एक छोटे से किसान ने कैसे कमाए करोड़ो रुपए और बदल डाली अपनी किस्मत

शुरूआत में अमर ने आंवलों को कच्चा ही बेचा कर सालाना 3 से 4 लाख रुपए कमाई की, फिर अमर से आंवले का मुरब्बा और अचार खरीदने की डिमांड आया तो तो अमर ने मुरब्बा और अचार बनाने के लिए गांव की 25 महिलाओं को काम पर रखा और देशी तरीके से बिना किसी केमिकल का इस्तेमाल किया। यह महिला आंवले को उबालने से लेकर उसे चाशनी में डुबाने तक का काम करती हैं। अब अमर के मुताबिक़ उनका सलाना करीब 10 लाख रुपए तक कमाई हो जाती है।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...