Online se Dil tak

अभय चौटाला ने दुष्यंत और दिग्विजय पर साधा निशाना, कही यह बड़ी बात

इनेलो नेता और ऐलनाबाद के विधायक अभय चौटाला ने एक बार फिर से अपने भतीजे दुष्यंत चौटाला पर निशाना साधा है अभय पानीपत थर्मल पावर प्लांट और केएमपी से चौ. देवीलाल का नाम हटने से खासा नाराज है उन्होंने हमलावर होते हुए कहा है जिनको कुर्सी का लालच था इसलिए वो चुप रहें।

फतेहाबाद में अभय चौटाला ने कहा की पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा ने अपने कार्यकाल में चौधरी देवीलाल का नाम पानीपत थर्मल प्लांट से हटाने का काम किया था उस समय चाचा रणजीत सिंह योजना आयोग के सदस्य थे और वो उस समय चुप चाप बैठे रहे थे । उन्होंने कुर्सी का लालच कर जुबान पर ताले लगा लिए थे ।

अभय चौटाला ने दुष्यंत और दिग्विजय पर साधा निशाना, कही यह बड़ी बात
अभय चौटाला ने दुष्यंत और दिग्विजय पर साधा निशाना, कही यह बड़ी बात


मौजूदा सरकार के कार्यकाल में पानीपत में बड़ा विरोध हुआ तो मजबूर होकर चौधरी देवीलाल के नाम पर रखा गया ।kmp का नाम भी चौ. देवीलाल के नाम पर था भाजपा सरकार ने इसका नाम बदल दिया। तब दुष्यंत और दिग्विज हर रोज कुंडली में विरोध करने वाले में सबसे आगे खड़े होते थे । दोनो उस पत्थर के साथ फोटो खिंचवाते थे जिसपर चो चौधरी देवीलाल का नाम लिखा था ।

अभय ने अपने संबोधन में पूछा की आजकल पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर कौन है और इनको देवीलाल के नाम से कोई फर्क मतलब नहीं है उन्हें कोठी और कार चाहिए । उन लोगो को डर है की उनके घोटाला की फाइलें भाजपा के पास तैयार है समर्थन वापस लेते ही वाले ईडी शाम को उठाकर ले जायेंगे

अभय चौटाला ने दुष्यंत और दिग्विजय पर साधा निशाना, कही यह बड़ी बात
अभय चौटाला ने दुष्यंत और दिग्विजय पर साधा निशाना, कही यह बड़ी बात

अभय ने जात आंदोलन का जिक्र करते हुए कहा की जाट आंदोलन के दौरान 54 नौजवानों को कत्लेआम किया कुछ लोग देवी लाल का नाम लेकर बेचारे बनकर आप लोगो के बीच आए थे और लोगो से कहे रहे थे घर से निकाल दिया है, भाजपा के बारे में कहते थे की भाजपा के हाथ खून से रंगे हुए है ।

जब हमारी सरकार बनेगी तो उनकी जाँच करवाएंगे भाजपा नेताओं को जेल की सलाखों के पीछे भेजेंगे। परंतु जब 10 MLA जीत गए तो सरकार में दांव लगाने के लिए चौधरी देवीलाल की नीतियों को गिरवी रखकर भाजपा की गोद में बैठ गए। दोनों हाथों से प्रदेश को लूटने में लगे हुए जेजेपी वाले हरियाणा को लूटकर खा गए।

Read More

Recent