Online se Dil tak

दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा – “अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता”, जाने वजह

जैसा कि आप सभी को पता ही है कि बॉलीवुड की दिग्गज गायिका लता मंगेशकर ने रविवार को हम सभी को अलविदा कह दिया।  उनका निधन 92 साल की उम्र में हुआ है। वह 8 जनवरी को महामारी संक्रमित हुए थे,  जिसके बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।  काफी दिनों तक उनका इलाज चला।  लेकिन रविवार सुबह 8:12 पर लता मंगेशकर जी की सांसो की डोर टूट गई।

लता मंगेशकर के जाने से फिल्म इंडस्ट्री के साथ साथ पूरा देश गम में डूब गया है। उनकी विदाई ने हर किसी की आंखों को नम कर दिया है। सभी उन्हें भावुक होकर श्रद्धांजलि दे रहे हैं। इस दौरान हर किसी ने स्वर कोकिला के शानदार काम की बात की है।

दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह
दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह

उन्होंने मात्र 13 साल की उम्र में ही काम करना शुरू कर दिया था। जिससे हमें पता चलता है कि उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी इंडस्ट्री को दे दी। इस जिंदगी में उन्होंने तमाम उतार-चढ़ाव का सामना किया है।

दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह
दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह

इसके बावजूद भी उन्होंने भारत रत्न अवार्ड को प्राप्त किया था। अपनी आवाज से आज तक भी लता दीदी बहुत लोगों के दिलों पर राज करती हैं। उनकी आवाज की वजह से उन्हें भारत के साथ-साथ दुनिया भर में जाना जाता है, लेकिन वह फिर से लता नहीं बनना चाहती।

दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह
दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह

अभी हाल ही में उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वह कहती हुई नजर आ रही है कि वह फिर से कभी भी लता मंगेशकर नहीं बनना चाहती।  इस वीडियो में स्वर कोकिला ने अपनी तकलीफों के  बारे में बताया है।

दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह
दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह

जैसा की वीडियो में नजर आ रहा है कि लता मंगेशकर के सवाल पूछा गया है कि, क्या अगर उन्हें  अगला जन्म मिलता है, तो उन्हें वैसे लता मंगेशकर बनना है?  इस सवाल का जवाब देते हुए वह हंसती हुई कहती है कि नहीं। उन्होंने बताया “अगर जन्म मिला तो मैं लता मंगेशकर नहीं बनना चाहती।  लता मंगेशकर के जिंदगी में जो तकलीफ है वह सिर्फ उसे ही पता है।”

आपको बताते हैं उनके पिता ने साल 1942 में दुनिया को अलविदा कह दिया था। जिस वजह से उन्होंने मात्र 13 साल की उम्र में अपने भाई बहनों की जिम्मेदारी को संभाला। शुरुआत में कई संगीतकारों ने लता की पतली की आवाज होने की वजह से उन्हें काम देने से साफ इनकार कर दिया। लेकिन  लता के भी पक्के इरादे थे, और उन्होंने अपनी आवाज को देने की कोशिश करी।

दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह
दुखी होकर लता मंगेशकर के कहा - "अब दोबारा नहीं बनना चाहती लता", जाने वजह

उन्होंने अपनी लगन और प्रतिभा के बल पर अपने काम को पाया उन्होंने बहुत गानों की रिकॉर्डिंग की है फिल्मी गीतों के अलावा उन्होंने गैर फिल्मी गीतों में भी खूब कामयाबी पाई है उन्होंने अपने करियर में 30 हजार से भी ज्यादा गाने गाए हैं।

Read More

Recent