Online se Dil tak

आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं “थूका” है

आपका बता दे, शाहरुख खान ने लता मंगेशकर के अंतिम संस्कार के दौरान उनको श्रद्धांजलि देते वक्त कहां फातिहा पढ़ा था जिसका मुकदमा आर्यन ने दर्ज करवाया है। आर्यन के अनुसार,  शाहरूख खान ने  लता मंगेशकर के अंतिम संस्कार के दौरान उनके पार्थिव शरीर पर फातिहा पढ़ा और फूक मारी। उन्होंने कहा इससे हिंदू धर्म के लोगों को दुख पहुंचा है और हमारी भावनाओं को ठेस पहुंची है।

आपको बता दें आगे से हाजीपुर के रहने वाले हैं।  उन्होंने शाहरुख खान पर मुकदमा दर्ज करते हुए कहा है कि, ‘मुझे न्यायालय पर पूरा भरोसा है कि न्याय मिलेगा।’ आर्यन सिंह की ओर से अधिवक्ता रमेश सिंह चंदेल ने परिवाद दायर कराया है।

आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है
आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है

वकील रमेश सिंह चंदेल के हिसाब से अदालत अभी वर्चुअल मोड में चल रही है। इसलिए परिवाद पत्र को ई फाइलिंग के जरिए दर्ज किया गया है। यह परिवाद भारतीय दंड सहिंता की धारा  295, 295A, 500 और 504A के अंतर्गत दर्ज कराया गया है।

आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है
आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है

लता मंगेशकर के अंतिम संस्कार की बड़ी हस्तियों शिवाजी पार्क में दिखाई दी थी। जिस दौरान शाहरुख खान उनके मैनेजर पूजा ददलानी भी वहां नजर आए थे। जब शाहरुख खान लता मंगेशकर को पुष्पांजलि देने के लिए गए, तो उन्होंने पैर छुए और मरहूम के लिए दुआ की और मास्क हटाकर फूक भी मारी।

शाहरुख खान की तस्वीरें सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो गई। कई लोग बिना सोचे समझे उन्हें रोल ट्रोल करने लग गए। कई लोगों ने उन्हें ऐसा करने के को लेकर एतराज भी जताया है। उनका कहना है उन्होंने लता मंगेशकर के पार्थिव शरीर पर फूका नही “थूका” है।

आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है
आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है

शाहरुख खान इसके पीछे की वजह बताते हुए कहा कि यह एक इस्लामिक परंपरा है। जिसके अनुसार जब कोई दुआ की जाती है तो उनके लिए दोनों हाथों को उठाकर सीने तक लाना होता है। और अल्लाह से मन्नतें की जाती हैं। इस्लाम के नजरिए से देखें तो यह दुआ का तरीका बहुत ही आम है।

आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है
आर्यन ने शाहरुख खान पर लता के पार्थिव शरीर के पास फतीहा पड़ने पर किया केस, कहां इन्होंने फूंका नहीं "थूका" है

मस्जिदों या दरगाहों पर यह दृश्य जा सकते हैं जहां कोई मां-बाप अपने बच्चे के लिए मुफ्ती या मौलाना से दुआ कराते हैं तो वे दुआ करने से साथ-साथ बच्चे के ऊपर फूंक मारते हैं। ऐसा बड़ों के लिए भी किया जाता है क्योंकि दुआ किसी भी इंसान के लिए की जाती है।

Read More

Recent