HomeUncategorizedपैरोल पर बाहर आए राम रहीम तो सबसे पहले गुरुग्राम डेरे पर...

पैरोल पर बाहर आए राम रहीम तो सबसे पहले गुरुग्राम डेरे पर मिलने पहुंची हनिप्रीत, मचा हंगामा

Published on

जैसा कि आप सभी को पता ही है, बाबा राम रहीम जेल में बंद थे। लेकिन अभी चुनाव से चंद दिनों पहले उन्हें 21 दिनों के लिए पेरोल मिल गई है। जिसकी चर्चा हर जगह हो रही है। अभी पता चला है कि रामरहिम अपने गुरु ग्राम के डेरे पर हैं और मंगलवार को उनका वहां पर पहला दिन था और पहले दिन ही हनिप्रीत उनके डेरे पर मिले पहुंच गए। जहां पर उनकी बेटी और मां मौजूद थी।

इस दौरान उन्होंने काफी समय बाद परिवार के साथ खाना खाया जिसमें मां ने अपने बेटे के लिए पसंदीदा खीर कम चीनी वाली बनाई थी। जब राम रहीम के भक्तों को पता चला कि वह पैरोल पर बाहर आ रहे हैं, तो वे उनसे मिलने के लिए वहां पहुंचने लगे।

पैरोल पर बाहर आए राम रहीम तो सबसे पहले गुरुग्राम डेरे पर मिलने पहुंची हनिप्रीत, मचा हंगामा

लेकिन पुलिस ने उन्हें समझा कर वापस भेज दिया इतने समय से बंद डेरे की भी रौनक बदल गई सोमवार को 5:00 बजे राम रहीम के पहुंचने के बाद पुलिस ने उस स्थान को पूरी तरह से छावनी में बदल दिया है।

पैरोल पर बाहर आए राम रहीम तो सबसे पहले गुरुग्राम डेरे पर मिलने पहुंची हनिप्रीत, मचा हंगामा

डेरे के अंदर मिलने वाले लोगों को जाने दिया जा रहा है  इतना ही नहीं बल्कि अंडर डोर फ्रेम मेटल डायरेक्ट से होकर डेरे से गुजरना पड़ता है। 900 वर्ग फीट में बना यह डेरा बहुत सुर्खियों में है ।

पैरोल पर बाहर आए राम रहीम तो सबसे पहले गुरुग्राम डेरे पर मिलने पहुंची हनिप्रीत, मचा हंगामा

राम रहीम के जेल जाने के बाद यह डेरा बिल्कुल बंद रहा था। बस परिवार के लोग यह कभी-कभी आया करते थे। इसके अलावा केयरटेकर इसकी देखभाल करते थे। डीएसपी ईस्ट मकसूद अहमद और एसपी सदर अमन यादव ने सुरक्षा का जायजा भी लिया है।

पैरोल पर बाहर आए राम रहीम तो सबसे पहले गुरुग्राम डेरे पर मिलने पहुंची हनिप्रीत, मचा हंगामा

राम रहीम रोजाना की तरह सुबह उठकर योग करते हैं और भीतर ड्यूटी पर रहने वाले जवानों के मोबाइल बंद करा दिए जाते हैं। पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि उनके पास जमा है कि राम रहीम की सुरक्षा रखनी है। अब तक आने वाले लोगों में उनके परिवार एवं डेरे से जुड़े कुछ पुराने लोग शामिल हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...