Online se Dil tak

खोखला साबित हुआ निगम अतिक्रमण मुक्त अभियान, रेहड़ी पटरी वालों से अटा दिखा प्रमुख बाजार एक नंबर

शहर के प्रमुख बाजारों में से एक कहें जाने वाला बाजार एक नंबर इन दिनों अतिक्रमण अटा हुआ दिखाई दे रहा है। जहां एक समय में जब निगम का अतिक्रमण मुक्त अभियान चलाया गया था तो अतिक्रमण हटने के चलते यातायात सामान्य हो गया था, लेकिन आलम यह है कि कुछ समय तक तो ठीक था। गौरतलब, नगर निगम ने गत वर्ष 5 दिसंबर को मेगा स्वच्छता अभियान शुरू किया था। इस दौरान भी लोगों को अतिक्रमण मुक्त शहर बनाने के लिए जागरूक किया गया था।

मगर आज हालात वही ज्यों के त्यों बने हुए हैं, और पूरा मार्केट एक बार फिर अतिक्रमण का शिकार होता हुआ दिखाई दिया है। दरअसल, इन तस्वीरों में स्पष्ट देख सकते हैं कि रविवार को पूरी मार्केट में अतिक्रमण ने पैर पसारे हुए है। जिसके बाद बाजार में पैदल चलने वालों के लिए जगह ही नहीं बची है। मार्केट के प्रवेश द्वार यानी 1-2 नंबर चौक की बात करें, तो यहां पर रेहड़ी वालों ने अतिक्रमण किया हुआ है।

खोखला साबित हुआ निगम अतिक्रमण मुक्त अभियान, रेहड़ी पटरी वालों से अटा दिखा प्रमुख बाजार एक नंबर
खोखला साबित हुआ निगम अतिक्रमण मुक्त अभियान, रेहड़ी पटरी वालों से अटा दिखा प्रमुख बाजार एक नंबर




सड़क पर ही पटरी लगी हुई है। थोड़ा सा आगे चलें तो मिलाप दवाखाना चौक के आसपास भी पटरी वालों का अतिक्रमण नजर आया। पैदल चलने वाले परेशान दिखे, तो वाहन लेकर आने वालों को भी मार्केट से निकलना भारी पड़ा। एक तरफ तो वैसे ही मार्केट नंबर एक में कहीं पार्किंग नहीं है। दुकानों के आगे अतिक्रमण है। वहीं जो लोग पैदल भी आते हैं, तो निकलना मुश्किल हो जाता है।

याद हो कि 21 दिसंबर को जब निगमायुक्त यशपाल यादव ने अतिक्रमण के खिलाफ अभियान तेज किया था, तो कुछ दिनों तक सख्ती का असर दिखाई दिया। कई दुकानदारों ने निगमायुक्त के प्रयासों की सराहना करते हुए अपनी दुकानों के आगे से अतिक्रमण हटा लिया था। निगमायुक्त अतिक्रमण मुक्त शहर मुहिम के तहत मार्केट नंबर एक पहुंचे थे। व्यापार मंडल कार्यालय में दुकानदारों के साथ बैठक भी की थी। अतिक्रमण करने वालों पर जुर्माने भी लगे थे, पर अब फिर वही हाल है।

खोखला साबित हुआ निगम अतिक्रमण मुक्त अभियान, रेहड़ी पटरी वालों से अटा दिखा प्रमुख बाजार एक नंबर




वहीं लोगों का कहना है कि 1-2 नंबर चौक से ही अतिक्रमण शुरू हो जाता है। इसके चलते बाजार में कई बार जाम लग जाता है। नगर निगम को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। मार्केट में उन लोगों के चालान किए जाने चाहिए, जो अतिक्रमण करते हैं। सड़क पर रेहड़ी-पटरी वाले अतिक्रमण नहीं करेगे, तो निकलना आसान होगा।

Read More

Recent