HomeLife StyleEntertainmentबप्पी लहरी के जाने के बाद किसे मिलेगा इनका सोना, कौन होगा...

बप्पी लहरी के जाने के बाद किसे मिलेगा इनका सोना, कौन होगा इसका वारिस?

Published on

मंगलवार देर रात भारत के मशहूर सिंगर बप्पी लहरी का 69 वर्ष की आयु में निधन हो गया। पांच दशकों तक ‘डिस्को किंग’ के नाम से मशहूर बप्पी का शानदार करियर चला। जैसा की सब जानते हैं, उन्हें सोने के आभूषण पहनने का बहुत शौक था और वह हमेशा ही गोल्ड के आभूषण में लदे रहते थे। इसलिए उन्हें गोल्ड मैन ऑफ इंडिया के नाम से भी जाना जाता है। कहा जाता है कि सोने के गहनों के लिए उनका प्यार अमेरिकी गायक एल्विस प्रेस्ली से प्रेरित था। हालांकि बाद में गोल्ड उनका ‘लकी चार्म’ बन गया।

उनके पास इतना गोल्ड था कि उन्हें देखभाल के लिए एक असिस्टेंट रखना पड़ा था। कई सोने की चेन, अंगूठियां और काला चश्मा बप्पी लहरी के ट्रेडमार्क बन गए थे। साल 2010 के अंत में उन्होंने पारंपरिक सोने के आभूषण ना पहनना फैसला किया और एक नए युग की धातु ‘लुमिनेक्स ऊनो’ को चुना।

बप्पी लहरी के जाने के बाद किसे मिलेगा इनका सोना, कौन होगा इसका वारिस?

बप्पी लहरी का मुंबई में एक आलीशान मकान है, ये मकान उन्होंने साल 2001 में खरीदा था। इन दिनों उनके मकान की कीमत 3.5 करोड़ रुपये आंकी गई है. बताया जाता है कि बप्पी दा को लग्‍जरी कारों का शौक था. उनके पास दुनिया की 5 सबसे महंगी गाड़ियां थीं. उनकी कारों में से एक कार टेस्ला भी थी, जिसे विदेश से इंपोर्ट कराना पड़ा

बप्पी लहरी के जाने के बाद किसे मिलेगा इनका सोना, कौन होगा इसका वारिस?

बप्पी का सारा सोना लॉकर्स में खूबसूरत डिब्बों के अंदर संभाल कर रखा होता है। बताया जा रहा है कि उनके निधन के बाद उनका सारा गोल्ड उनके बेटे बप्पा और रेमा संभालकर रखेंगे।

बप्पी लहरी के जाने के बाद किसे मिलेगा इनका सोना, कौन होगा इसका वारिस?

बता दें कि बप्पी का निधन लंबे समय से चल रही बीमारी के कारण हुआ। वह करीब एक महीने से अस्पताल में भर्ती थे। सोमवार को उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया था।

बप्पी लहरी के जाने के बाद किसे मिलेगा इनका सोना, कौन होगा इसका वारिस?

लेकिन मंगलवार को उनकी तबीयत अचानक से बिगड़ गई। उनके परिजन ने डॉक्टर को बुलाया, डॉक्टर ने उन्हें अस्पताल ले जाने की सलाह दी। अस्पताल में उनका निधन हो गया।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...