Online se Dil tak

अब हरियाणा में महंगाई ने तोड़े अपने रिकॉर्ड, महंगाई में पहुंचा नंबर वन

बढ़ते समय के साथ-साथ महंगाई में भी काफी उछाल आता नजर आ रहा है। जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा हैं। वहीं महामारी एक ऐसा मुद्दा है, जो कभी खत्म ही नहीं हो सकता। बता दें कि सरकार ने केंद्रीय बैंकों को महंगाई दर 4 से 6 फीसदी मैं रखने की जिम्मेदारी दे दी है। वहीं महंगाई के चलते आम लोगों को बहुत ही मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

बता दें कि कीमतें इतनी ज्यादा बढ़ गई है, कि इंसान खरीदी से पहले उसका भाव जरूर पूछता है ऐसे में रिटेल कीमतों की दर में इतनी अधिक बढ़ोतरी चिंता का विषय बन गई है, क्योंकि रिटेल इन्फ्लेशन की यह दर भारतीय रिजर्व बैंक की तय सीमा को पार कर रही है। वहीं सरकार केंद्रीय रिजर्व बैंक को सीपीआई लक्ष्य 2 से 6% के बीच रखने का निर्देश दिया जाता है।

अब हरियाणा में महंगाई ने तोड़े अपने रिकॉर्ड, महंगाई में पहुंचा नंबर वन
अब हरियाणा में महंगाई ने तोड़े अपने रिकॉर्ड, महंगाई में पहुंचा नंबर वन




वही आंकड़ों की माने तो महंगाई में लगातार दो महीने से हरियाणा पहले स्थान पर है। जबकि नवंबर की बात करें तो पहले हरियाणा देश के छठे नंबर पर आता था, लेकिन बेरोजगारी, पेपर लीक, भ्रष्टाचार व नौकरी बेचने के मामलों के बाद अब हरियाणा में भी महंगाई देश में नंबर वन बना दिया है। इसके बावजूद प्रदेश सरकार को कोई शर्म तक नहीं आ रही।




हरियाणा केंद्र अध्यक्ष का कहना है, कि देशभर से आने वाले लोगों को रोजगार देने वाला प्रदेश आज बेरोजगारी में देश में नंबर वन है। लोगों को ना तो निजी क्षेत्र में नौकरियां मिल रही है और ना ही उन्हें सरकारी नौकरी मिल पा रही है।

अब हरियाणा में महंगाई ने तोड़े अपने रिकॉर्ड, महंगाई में पहुंचा नंबर वन







इस मुद्दे पर हाल ही कुमारी शैलजा ने भी इस पर अपना बयान जारी किया था, उनका कहना था कि पेपर लीक और नौकरियों में भ्रष्टाचार के रिकॉर्ड हरियाणा में पहले ही स्थापित कर दिए हैं और सबसे प्रतिष्ठित एचसीएस तक की परीक्षा में पास कराने के खुलेआम थे के लिए जा रहे हैं। जिस देश में ऐसा भ्रष्टाचार हो रहा है । वह देश कैसे अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करेगा और कैसे ही यह देश कभी आगे बढ़ पाएगा।

Read More

Recent