Online se Dil tak

अब पत्रकारों के बीच पीएचडी डिग्री लेकर धरातल पर उतरेंगे हरियाणा के उपमुख्यमंत्री, साक्षात्कार पास में देरी

शिक्षा प्राप्त करने के लिए कोई उम्र नहीं होती, शिक्षा कभी भी किसी भी आयु में प्राप्त की जा सकती है ।शिक्षा के क्षेत्र में ज्ञान प्राप्त करने के लिए हमारे उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने हाल में ही पीएचडी की प्रवेश परीक्षा पास की। हरियाणा के मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने पत्रकारिता व जनसंचार विभाग की पीएचडी की परीक्षा पास की।

ये परीक्षा हरियाणा के सिरसा में चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय स्थित सीवी रमन भवन में रविवार को पत्रकारिता व जनसंचार विषय की पीएचडी में दाखिले के लिए मुख्य मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के साथ 75 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी। उपमुख्यमंत्री सहित 25 विद्यार्थियों ने परीक्षा पास की।विश्वविद्यालय में पत्रकारिता व जनसंचार विभाग में 11 सीटों के लिए विद्यार्थियों ने परीक्षा दी इसके लिए 95 विद्यार्थियों ने आवेदन दिया किया था। रविवार को 74 विद्यार्थियों ने प्रवेश परीक्षा दी ।

अब पत्रकारों के बीच पीएचडी डिग्री लेकर धरातल पर उतरेंगे हरियाणा के उपमुख्यमंत्री, साक्षात्कार पास में देरी
अब पत्रकारों के बीच पीएचडी डिग्री लेकर धरातल पर उतरेंगे हरियाणा के उपमुख्यमंत्री, साक्षात्कार पास में देरी

परीक्षा में हिंदी में अंग्रेजी विषय में प्रश्न पत्र दिया गए ।विश्वविद्यालय में परीक्षा 10:00 से 12:00 बजे चली परीक्षा देने के लिए डिप्टी सीएम के काफिले में मात्र एक ही गाड़ी थी ।उनके कमरे में 16 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी ।चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय में पत्रकारिता व जनसंचार विभाग की प्रवेश परीक्षा का परिणाम रविवार शाम को जारी किया गया ।

अब पत्रकारों के बीच पीएचडी डिग्री लेकर धरातल पर उतरेंगे हरियाणा के उपमुख्यमंत्री, साक्षात्कार पास में देरी
अब पत्रकारों के बीच पीएचडी डिग्री लेकर धरातल पर उतरेंगे हरियाणा के उपमुख्यमंत्री, साक्षात्कार पास में देरी

विद्यार्थियों में से करीब 25 विद्यार्थियों ने परीक्षा पास की जिनमें से डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने भी अपनी प्रवेश परीक्षा पास कर ली। विश्वविद्यालय में 16 विभागों में पीएचडी के 92 सीटों के लिए 20 फरवरी को परीक्षा आयोजित की गई आज के युवा की जिंदगी में शिक्षा अहम हिस्सा है ।इसे हम कभी भी प्राप्त कर सकते हैं ।डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला द्वारा विद्यार्थी जीवन के लिए एक अच्छी पहल है इससे हमारे युवाओं के अंदर भी हिम्मत जागृत होगी कि किसी भी कार्यक्षेत्र में कार्य करते हुए हम शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि ज्ञान की कोई सीमा नहीं होती।

Read More

Recent