Online se Dil tak

चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम

आज के समय में सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफार्म है,  जहां पर हम देश और दुनिया की कोई भी खबर घर बैठे जान सकते हैं। यहां पर आए दिन अजीबो-गरीब खबरें भी आती रहती हैं।  जो कि सुनने के बाद इनपर जल्दी विश्वास नहीं होता। लगता है कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है। आज भी हम एक ऐसी घटना के संबंध में आपको बताने वाले हैं जिसके अनुसार एक शख्स कुछ घंटों का मेहमान था और शख्स की पत्नी ने निशानी के रूप में अपने पति से बच्चे की मांग की और फिर पत्नी ने एक ऐसा कदम उठाया जिसको सुनकर आप सभी के होश उड़ जाएंगे। आइए जानते हैं क्या किया पत्नी ने।

आपको बता रहे हैं, जिस घटना के बारे में हम बात करने वाले हैं वह गुजरात के एक परिवार की है। जो फिलहाल कैनेडा में रहता है। इस परिवार में वर्तमान में सिर्फ एक महीना जीवित है। यह खुशहाल परिवार महामारी की वजह से तबाह हो गया। गुजराती परिवार का बेटा और बहू कनाडा में रहते थे।

चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम
चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम

अचानक भारत में बैठे के पिता की तबीयत खराब हो गई।  किसी तरह महामारी के चलते बहू अपने परिवार के पास आती है। तो पता चलता है कि बेटा भी महामारी का शिकार हो गया है और वह अस्पताल में भर्ती है। बहु अकेले क्या करती। उसने दोनों तरफ की स्थितियों को संभाला।

चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम
चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम

कुछ दिन बाद अस्पताल से फोन आता है कि उसका पति और कुछ समय का ही मेहमान है। ऐसे में महिला के पास कोई और ऑप्शन नहीं था। महिला अस्पताल पहुंचे और उसने अपने पति से एक बच्चे की मांग की। लेकिन उन्होंने मना कर दिया। महिला अपने पति से एक बच्चा चाहती थी।  हर एक महिला का सपना होता है कि मां बनकर उसका सुख पा सके।

चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम
चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम

आपकी जानकारी के लिए बता दें, जब अस्पताल वालों ने ऐसा करने से मना कर दिया तो महिला निराश हो गई क्योंकि वह कनाडा भी नहीं जा सकतीं थी।  उस समय पर महामारी अपनी चरम सीमा पर थी। इसी बीच महिला गुजरात हाई कोर्ट जाकर अपनी बात रखी है।  महिला ने अपने पति के  स्पर्म की डिमांड की।

चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम
चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम

उसने कहा कि उसके पति के बचने के चांस बहुत कम है,  लेकिन आज विज्ञान ने तरक्की कर ली है। ऐसे में अगर उसे उसके पति का स्पर्म मिल जाता तो वह मां बन जाती।

चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम
चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम

कोर्ट ने सभी सुनवाई यों को रोककर महिला की बात को सुना और मेडिकल साइंस के जानकारों से बातचीत की और निर्णय लिया कि महिला की है इच्छा पूरी नहीं की जा सकती क्योंकि आज तक इस तरह का कोई काम नहीं किया गया।

चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम
चंद घंटों में अस्पताल में भर्ती पति कहने वाला था दुनिया को अलविदा तो निशानी के तौर पर पत्नी ने की बच्चे की मांग, उठाया यह कदम

कोर्ट ने उनकी अर्जी को खारिज कर दिया। आज महिला का पति और ससुर दुनिया में नहीं है।  वह  अकेली है और ऐसे ही अपने जीवन को जी रही है। उसके पति से एक उम्मीद थी वह भी टूट गई।  अब वह  पूरी तरह अकेली है।

Read More

Recent