Online se Dil tak

सताएगी मंहगाई की गर्मी : तापमान के साथ लोहे व कॉपर के दाम करेंगे परेशान, यह है वजह

इस बार गर्मी कुछ ज्यादा जल्दी आ गई है उधर होली के रंग फीखे भी नहीं पड़े उधर गर्मी ने अपने रंग दिखाना शुरु कर दिया । वही राज्य का तापमान 38 डिग्री तक पहुंच गया है अब ऐसे में लोगो को लगता है जितनी तेजी से गर्मी बढ़ी है उतनी ही तेजी से कूलर, पंखों के भाव में दर्ज की जा रही है। रुस-यूक्रेन युद्ध ने तेजी को अधिक हवा दी है। अकेले कापर के दाम 600 से बढ़कर 900 रुपये तक पहुंच चुके हैं। लोहे की सीट के दाम 70 रुपये से बढ़कर 90 रुपये तक पहुंच चुके हैं

यदि बात की जाए हरियाणा में मंहगाई की तो बता दे की अकेले पानीपत शहर में 30 से 40 हजार तक और 2 लाख से अधिक पंखों की बिक्री होती है। गर्मी में कूलर का उपयोग अमूमन हर घर में किया जाता है कूलर में कोपर के साथ साथ लोहे की चादर भी लगती है जैसे ही इन दोनो धातुओं के दामों में उछाल आया तो साथ ही कूलर भी 1200 से 1300 रूपए अधिक महंगे हो गए है।

सताएगी मंहगाई की गर्मी : तापमान के साथ लोहे व कॉपर के दाम करेंगे परेशान, यह है वजह
सताएगी मंहगाई की गर्मी : तापमान के साथ लोहे व कॉपर के दाम करेंगे परेशान, यह है वजह

वही पंखों की बात की जाए तो कोपर का इस्तमाल के कारण पंखों में 12 से 15 प्रतिशत दामों में बढ़ोत्तरी हो रही हैपानीपत में छोटी बड़ी 550 दुकानें कूलर और पंखों का कारोबार करती है। कूलर ने मुख्य मार्केट गोहाना रोड, सनौली रोड है। जबिक पंखों की मुख्य मार्केट रेलवे रोड है। इस बार उन स्टाकिस्टों को लाभ रहेगा। जिन्होंने आफ सीजन में कूलर पंखे का स्टाक किया है। आफ सीजन में भी कंपनियां माल काटती है।

सताएगी मंहगाई की गर्मी : तापमान के साथ लोहे व कॉपर के दाम करेंगे परेशान, यह है वजह

उस दौर में कंपनी के एजेंट को माल स्टाक रखना पडता है। इस बार स्टाकिस्ट को लाभ मिलेगा। पिछले वर्ष एक बार कोरोना की गाइडलाइन के कारण देर से मार्केट खुलने से नुकसान होने की स्थिति बन गई थी, लेकिन सीजन के जाते-जाते दुकानदारों ने माल की सेल को कवर कर लिया था।

सताएगी मंहगाई की गर्मी : तापमान के साथ लोहे व कॉपर के दाम करेंगे परेशान, यह है वजह

जैसे ही दाम बढ़े तो दुकानदारों की लागत में भी फर्क आया है उनकी लागत इस समय पहले से ज्यादा हो गई है

Read More

Recent