Online se Dil tak

नकल विहीन परीक्षा के दावे तार -तार, छतो और रस्सियों से लटक कर कराई गई नकल

हरियाणा शिक्षा बोर्ड की 10वीं की परीक्षा गुरुवार को शुरु हो गई थी, जिला प्रशासन के नकल रहित परीक्षा करने के दावे फेल।होते हुए नज़र आए। सभी इंतजामों की धज्जियां उड़ाते हुए नकलचियो ने परीक्षा केंद्र पर किसी न किसी सहारे से विधियार्थियो को पर्ची देते हुए नजर आए ।

हरियाणा के कुछ जिलों में जान पर खेल कर परीक्षा केंद्रों में नकल कराई गई , हालंकि हर केंद्र पर 8 से 10 पुलिस कर्मी तैनात थे। परीक्षा केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में धारा 144 लगाई गई थी, लेकिन उसके बावजूद काफी लोग 200 मीटर के दायरे के अंदर ही घूमते देखे गए। पेपर समाप्त होने तक अभिभावक परीक्षा केंद्रों के आसपास डटे रहे।

नकल विहीन परीक्षा के दावे तार -तार, छतो और रस्सियों से लटक कर कराई गई नकल
नकल विहीन परीक्षा के दावे तार -तार, छतो और रस्सियों से लटक कर कराई गई नकल

उसके बावजूद भी परीक्षा केंद्रों की खिड़कियों और दीवारों पर भी लोग चढ़े दिखे। पुलिसकर्मी नकल फेंकने वालों को भगाने का पूरा प्रयास करते रहे, लेकिन वे नहीं माने। पुलिस कर्मी इधर से भगाते तो वे दूसरी तरफ पहुंच जाते। जिला शिक्षा विभाग व प्रशासन के उड़नदस्तों ने केेंद्रों पर छापा मारकर 87 छात्रों को नकल करते हुए पकड़ा। उनके खिलाफ यूएमसी बनाई गई।

10वीं कक्षा का बृहस्पतिवार को सामाजिक अध्ययन का पेपर था। दोपहर 12.30 बजे शुरू हुआ। परीक्षार्थियों को 12 बजे से ही परीक्षा केंद्र के अंदर प्रवेश कराना शुरू कर दिया। हॉल के अंदर प्रवेश कराने से पहले परीक्षार्थियों की पूरी तरह से जांच की गई। जांच के बाद ही हॉल के अंदर पेपर देने के लिए प्रवेश दिया गया।

नकल विहीन परीक्षा के दावे तार -तार, छतो और रस्सियों से लटक कर कराई गई नकल

परीक्षा केंद्रों के बाहर सुरक्षा को लेकर तथा शांतिपूर्ण तरीके से पेपर कराने के लिए भारी पुलिस बल मौजूद था। हर केेंद्र पर 8 से 10 पुलिस कर्मी तैनात थे। परीक्षा केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में धारा 144 लगाई गई थी, लेकिन उसके बावजूद काफी लोग 200 मीटर के दायरे के अंदर ही घूमते देखे गए। पेपर समाप्त होने तक अभिभावक परीक्षा केंद्रों के आसपास डटे रहे।

Read More

Recent