HomeFaridabadकोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में...

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

Published on

कहां जाता है एकता के ब बल में बहुत ताकत होती है। यही बात कहीं ना कहीं सार्थक भी होती है फरीदाबाद वासियों के लिए। जिन्होंने कोरोनावायरस के संक्रमण की गंभीरता को समझते हुए स्वयं अपनी जागरूकता को समाज हित में प्रयोग करते हुए फरीदाबाद को कोरोना वायरस से दूर रखने में मददगार साबित किया है।

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

वैसे तो दिन प्रतिदिन फरीदाबाद जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के नए आंकड़े स्वास्थ्य विभाग द्वारा पेश किए जा रहे हैं।

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

वही इसको दूसरा पहले देखे तो राहत भरी बात तो यह है कि दिन प्रतिदिन इस वायरस को मात देकर घर लौटने वाले मरीजों की संख्या एक्टिव मरीजों से ज्यादा दर्ज की जा रही है।

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

इसे सुधार को देखते हुए अब फरीदाबाद के जिला उपायुक्त यशपाल यादव द्वारा फरीदाबाद में बनाए गए कंटेनमेंट जोन की संख्या को कम करते जा रहे हैं।

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले तक फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या 138 थी जिसे अब घटाकर 135 कर दिया गया है। एक खास बात यह है

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

कि एक समय में फरीदाबाद में बनाए गए कंटेनमेंट जोन की संख्या दिल्ली में बनाए गए कंटेनमेंट जोन की संख्या से भी ज्यादा दर्ज की गई थी।

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

लेकिन आलम यह है कि अब फरीदाबाद में जैसे-जैसे कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है वैसे वैसे कंटेनमेंट जोन की संख्या भी हटाई जा रही है।

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

इतना ही नहीं अब धीरे-धीरे सामान्य जीवन को लौटाने के लिए हर रोज एक नई आदेश पारित किए जा रहे हैं ताकि आमजन को उनकी पुरानी जीवनी लौटाई जा सके।

कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होते ही घटने लगे हैं फरीदाबाद में कंटेनमेंट जोन की संख्या, अब बचे है इतने

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...