Online se Dil tak

कोरोना की मार झेल रही जनता पर ख्ट्टर सरकार ने डाला मंहगाई का बोझ

कोरोना महामारी के दौर में घाटे में चल रही हरियाणा प्रदेश सरकार ने बीते गुरुवार को हुई केबिनेट की बैठक में सरकारी आमदनी को बढ़ाने के लिए कई विशेष मुद्दों पर चर्चा की, प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में हुई बैठक के दौरान कई अहम मुद्दों पर मंथन किया गया। जिसमें सरकार ने कई सुविधाओं एवं वस्तुओ के दामों में वृद्धि कर वर्तमान दौर में जनता की खस्ता हालत को नजरंदाज कर सरकारी आमदनी को बढ़ाने के लिए कई नुक्से इजाद किए। हरियाणा प्रदेश सरकार ने लॉक डाउन खुलते है लॉक डाउन के कारण सरकारी आमदनी में आए नुकसान कि भरपाई के लिए पूरी रणनीति तैयार कर ली और नीचे दी गई वस्तुओ एवं सेवाओं के दामों में वृद्धि का फैसला लिया है।

कोरोना की मार झेल रही जनता पर ख्ट्टर सरकार ने डाला मंहगाई का बोझ

रोडवेज बस का किराया हुआ मंहगा :-

सरकारी आमदनी में हो रहे नुकसान कि वसूली के लिए प्रदेश सरकार ने रोडवेज बसो के किराए में 15 से 20 प्रतिशत वृद्धि करने का फैसला लिया है। पहले यात्री को रोडवेज बस से सफर करने में प्रति किलो मीटर के लिए 85 पैसे देने होते थे लेकिन अब रोडवेज किराए में वृद्धि होने के बाद एक रुपए प्रति किलो मीटर चार्ज किया जाएगा और 100 किलोमीटर से अधिक यात्रा पर 20 पैसे प्रति किलोमीटर अधिक वृद्धि रोडवेज बस के किराए में सरकार द्वारा कर दी गई है। इसके अतिरिक्त वोल्वो बस से यदि आप दिल्ली से चंडीगढ़ तक का सफर तय करते हैं तो पहले ₹2 प्रति किलोमीटर की दर से किराया भुगतान आपको करना होता था लेकिन अब 2.5 रुपए प्रति किलोमीटर की दर से आपको भुगतान करना होगा। दिल्ली से चंडीगढ़ तक के सफर में कुल 150 रुपए की वृद्धि करने का फैसला खट्टर सरकार द्वारा कैबिनेट की बैठक में लिया गया है।

कोरोना की मार झेल रही जनता पर ख्ट्टर सरकार ने डाला मंहगाई का बोझ

मंडियों में मार्केट फीस हुई महंगी:-

इस संकट काल के दौरान जहां निम्न वर्ग का प्रत्येक व्यक्ति अपना रोजगार खोकर घर पर बैठा है और जैसे तैसे अपनी जरूरतों के सामान का बंदोबस्त कर पा रहा है जिनमें से रोटी एवं सब्जी मुख्यत है। ऐसे में खट्टर सरकार द्वारा सरकारी खजाने को भरने के लिए सब्जी एवं फलों के दामों में भी वृद्धि करने का निर्णय लिया गया है। जिसके चलते प्रदेश कि सभी मंडियों में 1 रुपए मार्केट फीस ओर 1 फीसदी एचआरडीएफ सेस लगाया गया है।

कोरोना की मार झेल रही जनता पर ख्ट्टर सरकार ने डाला मंहगाई का बोझ

शराब के रेट बढ़ने के मुद्दे पर भी लिया निर्णय:-

इस बैठक के दौरान आबकारी नीति को लेकर भी चर्चा हुई जिसमें यह तय किया गया कि यदि 3 मई के बाद केंद्र सरकार शराब के ठेके खोलने की अनुमति देती है तो 14 मई से प्रदेश में नई आबकारी नीति लागू कर शराब के दामों में भी वृद्धि की जाएगी ताकि सरकारी खजाने को भरा जा सके।

कोरोना की मार झेल रही जनता पर ख्ट्टर सरकार ने डाला मंहगाई का बोझ

पेट्रोल हुआ मंहगा:-

इस बैठक के दौरान खट्टर सरकार द्वारा सरकारी आमदनी को ओर अधिक बढ़ाने के लिए पेट्रोल एवं डीजल के दामों में भी वृद्धि करने का फैसला लिया गया जिसके चलते पेट्रोल पर 1 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 1.1 रुपये प्रति लीटर वैट लगाया है।

जनता पर पड़ने वाला प्रभाव:-
हरियाणा राज्य सरकार द्वारा लिए गए इस निर्णय के चलते महामारी के दौर से गुजर रही जनता पर इसका बड़ा प्रभाव पड़ेगा क्योंकि इस दौरान जहां निम्न वर्ग से व्यापारी वर्ग रोजगार से दूर हो चुका है वहीं बेसिक वस्तुओं एवं सेवाओं के दामों में वृद्धि करने का खट्टर सरकार का यह फैसला प्रत्येक वर्ग के व्यक्ति की जेब पर भारी प्रभाव डालेगा।

कोरोना की मार झेल रही जनता पर ख्ट्टर सरकार ने डाला मंहगाई का बोझ

फरीदाबाद जिले पर प्रभाव:-

औद्योगिक और आबादी की दृष्टि से फरीदाबाद हरियाणा राज्य का सबसे बड़ा शहर है और इस संकट काल में जहां सभी उद्योगों पर ताले लगे हुए हैं वही व्यापारी वर्ग भी सरकार द्वारा लिए गए इस फैसले से काफी प्रभावित होगा। क्योंकि पेट्रोल में की गई वृद्धि का प्रभाव सभी आवश्यक वस्तुओं पर पड़ना लाजमी है इस कारण इस मंदी के दौर में व्यापार पर भी इसका खासा प्रभाव देखने को मिलेगा।

Read More

Recent