HomeIndiaकुत्ते की मृत्यु के बाद मालिक ने जो किया, उसे देख सब...

कुत्ते की मृत्यु के बाद मालिक ने जो किया, उसे देख सब हैरान रह गए

Published on

कुत्ते की मृत्यु के बाद मालिक ने जो किया, देख सब लोग हैरान रह गए :- सोशल मीडिया कुछ ऐसी खबरें हमारे सामने ला देता है। जिसे देखने के बाद हम सभी हैरान हो जाते हैं और उस खबर पर यकीन कर पाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे ही कुछ खबर सामने आई है, जिसे सुनकर लोग हैरान तो हैं जरूर, लेकिन कुछ ऐसे लोग भी होते हैं। जो जानवरों से बेहद प्रेम करते हैं और उसके साथ रहते रहते उसे अपने परिवार का सदस्य जैसा ही समझते हैं ।

झांसी के पुंछ गांव से एक ऐसा मामला है जिसे सुनकर आप दंग रह जाएंगे। यहां एक पालतू कुत्ते की मौत हो गई जिसके मौत के बाद उसकी तेरहवीं भोज का भी आयोजन किया गया।

कुत्ते की मृत्यु के बाद मालिक ने जो किया, उसे देख सब हैरान रह गए

कुत्ते की मौत के बाद शोक में डूबा परिवार 

कालू नाम के इस कुत्ते की मौत के बाद घर वालों ने इसी नदी में प्रवाहित कर दिया फिर कुत्ते के मालिक लखन अपने कुत्ते की मृत्यु भोज में रिश्तेदारों परिचितों और स्थानीय लोगों को भी निमंत्रित किया।

कुत्ते की मृत्यु के बाद मालिक ने जो किया, उसे देख सब हैरान रह गए

चौकीदार की जरूरत नहीं पड़ी

लखन सिंह के अनुसार 13 दिन पहले कालों की मौत हुई थी। उन्होंने विधि विधान से अंतिम संस्कार किया और अंतिम संस्कार के बाद मृत्यु भोज भी दिया। लखन ने बताया कि कालू को 2001 में वह घर लाएं तभी से उसे घर में रखा गया। जब से उसे घर में रखा गया कभी चौकीदार की जरूरत ही नहीं पड़ी।

लखन ने बताया कई बार चोरी की कोशिश हुई लेकिन कालू ने सब प्रयास को विफल किया। उसे बचपन से पाला जा रहा था बिना उसकी अनुमति के घर में कोई घुस नहीं सकता था। लखन ने कालू के मौत के बाद उसके शव को नदी में प्रवाहित कर अंतिम संस्कार किया और इस मृत्यु भोज में 500 लोगों का भंडारा दिया। मनुष्य की तरह ही इसका कर्मकांड किया गया और उसी विधि विधान से पूजा भी की गई।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...