HomeGovernmentचन्दावली पूल का निर्माण शुरू सितंबर में हो सकता हैं काम पूरा

चन्दावली पूल का निर्माण शुरू सितंबर में हो सकता हैं काम पूरा

Published on

बल्लभगढ़ मोहना रोड के लिए आगरा नहर पर चंदावली गांव के पास कर रहे चार लेन पुल का निर्माण कार्य काफी धीमी गति से चल रहा है यह पुल दिसंबर 2019 के अंत तक तैयार होना था लेकिन देरी के कारण अभी तक पूरा काम नहीं हुआ अब इसके लिए सितंबर की डेडलाइन तय की गई है

बल्लभगढ़ मोहल्ला रोड नहर पार की गांव को बाईपास रोड से जोड़ने का काम करता है वही फरीदाबाद शहर को केजीपी तक जाने के लिए भी इसी सड़क का इस्तेमाल करना होता है इसके रास्ते में आगरा नहर पर गांव चंदावली के पास पुराना पुल बनाया हुआ है

जो काफी सकरा है इस पुल पर अक्सर जाम की स्थिति बन जाती है और लोगों को लगभग 1 किलोमीटर दूर आईएमटी के बने पुल से होकर गुजरना पड़ता है पुल पर भारी भारी वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है बेहतर कनेक्टिविटी के लिए अक्टूबर 2018 में यहां पर लगभग ₹13 करोड़ की लागत से नया फोरलेन पुल बनाने का काम शुरू किया गया है

इसकी दिसंबर 2019 की डेडलाइन तय की गई थी कुछ तकनीकी शराबियों के चलते उस समय तक काम पूरा नहीं हुआ जिसके बाद इसके लिए मार्च 2020 की डेडलाइन तय की गई काम को थोड़ी गति मिली थी कि लॉकडाउन के चलते काम रुक गया था अब एक बार फिर से पुल का निर्माण कार्य तेजी से शुरू किया गया है यूपी सिंचाई विभाग ने सितंबर महीने तक पुल का निर्माण कार्य पूरे करने का वादा पीडब्ल्यूडी विभाग से किया है नहर के आधे हिस्से में पुल का निर्माण हो चुका है

दरअसल पुल को बनाने की अंतिम तिथि नवंबर-2019 थी, पर अभी तक पुल का 50 फीसद ही काम पूरा हो पाया है। पुल के तैयार न होने की वजह से ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे कुंडली-गाजियाबाद-पलवल (केजीपी) पर आने-जाने वाले लोगों को एक किलोमीटर का चक्कर काट कर आइएमटी पुल से होकर आना-जाना पड़ता है।

आगरा नहर पर उत्तर प्रदेश सिचाई विभाग का नियंत्रण है। उत्तर प्रदेश सिचाई विभाग नहर पर पुल निर्माण करने की अनुमति हरियाणा के किसी भी विभाग को नहीं देता है। लेकिन अब यह कार्य पीडब्ल्यूडी के पास आ गया हैं ।हरियाणा के लोक निर्माण विभाग सड़क एवं भवन ने उत्तर प्रदेश सिचाई विभाग को आगरा नहर पर चंदावली के पास पुल बनाने के लिए 13 करोड़ रुपये दिए थे।

उत्तर प्रदेश के सिचाई विभाग ने अक्टूबर-2018 में पुल का निर्माण कार्य शुरू कर दिया। पुल को तय समय सीमा 2019 के नवंबर महीने में पूरा करना था। नहर के पुल पर अभी तक केवल आधे हिस्से में ही पिलर बनाने व गार्डर रखने का काम पूरा हुआ है। ये पुल बल्लभगढ़-मोहना रोड नहर पार के दर्जनों गांवों को बाईपास रोड से जोड़ने का काम करता है।

फरीदाबाद से केजीपी तक जाने के लिए भी मोहना मार्ग से आना-जाना होता है। आगरा नहर पर गांव चंदावली के पास पुराना पुल बना हुआ है, जो काफी संकरा है। पुल पर ज्यादातर समय ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी रहती है। जिसके चलते चंदावली पुल की सबसे ज्यादा जरूरत महसूस की जाती है। अभी पुल का काफी काम बचा हुआ है।

पुल के लिए बाईपास रोड की तरफ पिलर बनाए जा चुके हैं और उसके हिस्से में गार्डर भी लगाए जा चुके हैं। चंदावली गांव की तरफ वाले हिस्से में अभी पिलर बनाने का काम किया जा रहा है। उसके बाद यहां पर गार्डर लगाए जाएंगे। गाडर के ऊपर लैंटर डालकर पुल को तैयार किया जाएगा। उत्तर प्रदेश सिचाई विभाग ने पुल को मार्च के अंत तक पूरा करने का आश्वासन दिया है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...