HomeCrimeआत्मसमर्पण के इरादे से फरीदाबाद पहुंचा था विकास दुबे, इस वजह से...

आत्मसमर्पण के इरादे से फरीदाबाद पहुंचा था विकास दुबे, इस वजह से फैल हुआ पूरा प्लान

Published on

कानपुर के बिसरू में 2 जुलाई की रात को 8 पुलिस वालो की हत्या को अंजाम देने वाले कुख्यात अपराधी विकास दुबे को आज सुबह पुलिस द्वारा उज्जैन से कानपुर ले जाते वक़्त एनकाउंटर में मार गिराया गया। विकास दुबे ने मध्यप्रदेश जाकर उज्जैन के महाकाल मंदिर में आत्मसर्मपण किया था।

लेकिन मध्यप्रदेश में विकास दुबे की गिरफ्तारी से पहले विकास दुबे की अंतिम लोकेशन फरीदाबाद देखी गई थी। जहां वह फर्जी आईडी लेकर एक होटल में पहुंचा था लेकिन  उसे कमरा न मिलने की वजह से वह वहां से फरार हो गया। सूचना के आधार पर पुलिस विकास दुबे के अन्य 3 साथियों को फरीदाबाद से गिरफ्तार करने में सफल भी हुई थी।

आत्मसमर्पण के इरादे से फरीदाबाद पहुंचा था विकास दुबे, इस वजह से फैल हुआ पूरा प्लान

बताया जा रहा है कि विकास दुबे अपने अन्य साथियों के साथ आत्मसमर्पण के इरादे से फरीदाबाद पहुंचा था। लेकिन जिन बिचोलियों के माध्यम से वह आत्मसमर्पण करने वाला था उनकी गतिविधियों को देखकर वह एनकाउंटर के डर से पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया।

विकास दुबे 5 जुलाई की रात को अपने दूर के रिश्तेदार फरीदाबाद निवासी श्रवण के यहां पहुंचा था। श्रवण शराब के ठेकों में कार्य करता है। विकास ने अपने रिश्तेदार श्रवण एवं उसके बेटे अंकुर को पहले पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी और उसके बाद उनसे मिलकर आत्मसमर्पण की योजना तैयार की थी।

आत्मसमर्पण के इरादे से फरीदाबाद पहुंचा था विकास दुबे, इस वजह से फैल हुआ पूरा प्लान

विकास दुबे के बादमसमर्पण को लेकर श्रवन ने जब अपने जानकार किसी पुलिसकर्मी से आत्मसमर्पण की बात की लेकिन उसकी यह योजना सफल नहीं हो पाई और फरीदाबाद पुलिसकर्मी ने जानकारी अपने आलाधिकारियों को दे दी। जानकारी व्यक्ति से सूचना पाकर तुरंत कार्यवाही करते हुए छापेमारी शुरू की लेकिन शातिर विकास दुबे फरार हो गया।

बताया जा रहा है विकास दुबे अपने साथी अमर दुबे और प्रभात के साथ यहां पहुंचा था। अमर दुबे 1 दिन श्रवण के घर रुककर फरार हो गया था। लेकिन विकास और प्रभात यही रुके हुए थे। घर में कम जगह होने के कारण श्रवन का पुत्र अंकुर विकास दुबे को एक होटल में लेकर गया जहां उसने फर्जी आईडी दिखाकर कमरा लेने की कोशिश की लेकिन होटल मालिक ने मना कर दिया।

आत्मसमर्पण के इरादे से फरीदाबाद पहुंचा था विकास दुबे, इस वजह से फैल हुआ पूरा प्लान

अंकुर विकास दुबे के आत्मसमर्पण को लेकर काफी डरा हुए था जिस कारण उसने अपने परिचित पुलिसकर्मी से बात की थी लेकिन वह आत्मसमर्पण की इस योजना को पूरा कर पाने में सफल नहीं हो सका। अंकुर की घबरहाट को देखकर विकास दुबे मौके से फरार हो गया और उज्जैन जा पहुंचा।

आत्मसमर्पण के इरादे से फरीदाबाद पहुंचा था विकास दुबे, इस वजह से फैल हुआ पूरा प्लान

इस पूरे मामले में फरीदाबाद पुलिस के एसीपी क्राइम अनिल कुमार का कहना है कि विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद अब फरीदाबाद में जांच करने का कोई विषय बचा नहीं है और यहां की जांच पूरी हो चुकी है। यूपी पुलिस अपनी तरफ से कार्यवाही कर रही है और हम उनका पूरा सहयोग करेगे।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...