HomeFaridabadअब नहीं रहेगा फरीदाबाद का नाम प्रदूषित शहरों में, उठाया जा रहा...

अब नहीं रहेगा फरीदाबाद का नाम प्रदूषित शहरों में, उठाया जा रहा है ये बड़ा कदम

Published on

अब दिल्ली में एनसीआर के सभी इलाकों पर प्रदूषण की काली छाया समाप्त हो जाएगी। दिल्ली एनसीआर के इलाकों में प्रदूषण को खत्म करने पर विचार किया जा रहा है वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग ने बताया कि एनसीआर को लगभग 3 जोन में बांटा जाएगा ।

और दिल दिल्ली के सट्टे जितने भी जिले हैं वैसे भी 1 जून में आएंगे। इसी तरह जितने भी जिले हैं उन्हें भी इसी तरह अलग-अलग जॉन बनाकर रखा जाएगा।

अब नहीं रहेगा फरीदाबाद का नाम प्रदूषित शहरों में, उठाया जा रहा है ये बड़ा कदम

जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली और एनसीआर के क्षेत्र को प्रदूषण रहित बनाने के लिए लगभग 4 साल का समय लिया गया है। वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग ने वर्ष 2026 तक लक्ष्य बनाया हुआ है की दिल्ली एनसीआर के क्षेत्र को प्रदूषण रहित बनाया जाए।

अब नहीं रहेगा फरीदाबाद का नाम प्रदूषित शहरों में, उठाया जा रहा है ये बड़ा कदम

जानकारी के लिए बता दें कि इस प्रबंधन आयोग में लगभग 9 सदस्य विशेषज्ञों की समिति से 6 महीने के अध्ययन के बाद प्रबंधन आयोग को विस्तृत रिपोर्ट दी गई है।

अब नहीं रहेगा फरीदाबाद का नाम प्रदूषित शहरों में, उठाया जा रहा है ये बड़ा कदम

इस काम को सुप्रीम कोर्ट में रिपोर्ट पेश कर दी गई वह इस पर कार्य भी किया जा रहा है। दिल्ली एनसीआर के इलाकों को प्रदूषण रहित बनाने के लिए सबसे पहले उद्योगों को चेतावनी दी गई है।

अब नहीं रहेगा फरीदाबाद का नाम प्रदूषित शहरों में, उठाया जा रहा है ये बड़ा कदम

इस बढ़ते हुए प्रदूषण के कारण सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण को लेकर स्थाई समाधान 6 महीने पहले हवाई गुणवत्ता प्रबंधन आयोग की तरफ से विशेषज्ञों को शामिल कर एक कमेटी बनाई थी और इसी का मान हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन ई राघवेंद्र राव को दी गई थी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...