HomeFaridabadफरीदाबाद को स्वच्छ शहर बनाने का तरीका हो रहा है फेल, खुले...

फरीदाबाद को स्वच्छ शहर बनाने का तरीका हो रहा है फेल, खुले में कूड़ा फेंकते दिखाई दिये लोग

Published on

फरीदाबाद को स्वच्छ बनाने के लिए प्रशासन द्वारा लगातार कोशिशें की जा रही है परंतु उसके बावजूद प्रदूषण व गंदगी खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। दरअसल फरीदाबाद को स्वच्छ बनाने का सपना तो दिखा दिया गया है परंतु कार्य उस ढंग से नहीं किया जा रहा है।

इसके अलावा लोगों ने भी गैर जिम्मेदाराना तरीके से अपने घरों के कूड़े को खुले में फेकना जारी रखा है। अब त्योहारों का सीजन चालू हो चुका है ।

फरीदाबाद को स्वच्छ शहर बनाने का तरीका हो रहा है फेल, खुले में कूड़ा फेंकते दिखाई दिये लोग

लगातार लोगों के घरों से उनके सफाई किए हुए गंदगी को बाहर फेंका जा रहा है और शहर में गंदगी का अंबार लग रहा है। आपको बता दें कि जिस कंपनी को शहर से कूड़ा उठाने का जिम्मा दिया गया था ।

सही ढंग से कार्य नहीं कर रही है इसके अलावा लोगों ने भी कंपनी को लेकर कई शिकायतें की हैं। जानकारी के लिए बता दें कि सॉलि़ड वेस्ट मैनेजमेंट के नियमानुसार इको ग्रीन कंपनी जिसे शहर में कूड़ा उठाने का जिम्मा सौंपा गया है।

फरीदाबाद को स्वच्छ शहर बनाने का तरीका हो रहा है फेल, खुले में कूड़ा फेंकते दिखाई दिये लोग

उन्हें लगभग शहर के हर घर से कूड़ा उठाने का जिम्मा दिया गया था और खुले में सहल रहे बूढ़े को बंद करने का प्लान बनाया गया था परंतु 4 साल से ज्यादा का समय बीत चुका है।

परंतु हालात वही का वही है शहर में प्रदूषण और गंदी की बिल्कुल भी खत्म नहीं हुई है । इसके अलावा इस प्रदर्शन में गंदगी को देखते हुए एनजीटी ने पूरा प्रबंधन के कमजोर व्यवस्था को देखते हुए सरकार पर लगभग 100 करोड रूपयों का जुर्माना लगाया है।

फरीदाबाद को स्वच्छ शहर बनाने का तरीका हो रहा है फेल, खुले में कूड़ा फेंकते दिखाई दिये लोग

वही यदि बात करें इकोग्रीन प्रबंधन का उन्होंने बताया कि कंपनी अपना कार्य ठीक ढंग से कर रहे हैं और वह अभी वंडर वर्ल्ड से कूड़ा उठा रही है।

फरीदाबाद को स्वच्छ शहर बनाने का तरीका हो रहा है फेल, खुले में कूड़ा फेंकते दिखाई दिये लोग

इको ग्रीन कंपनी को शुरुआती समय में केवल 5 वोटों से कूड़ा उठाने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी और यह अब बढ़कर 40 वर्ड हो गए हैं परंतु कोई भी सुधार देखने को नहीं मिला है।

फरीदाबाद को स्वच्छ शहर बनाने का तरीका हो रहा है फेल, खुले में कूड़ा फेंकते दिखाई दिये लोग

वहीं यदि हम लोगों को देखें तो इसमें बहुत बड़ा कारण लोगों का भी है कि वे खुले में ऐसे ही उड़ा रहे हैं और गंदगी बढ़ा रहे हैं लोगों द्वारा गली के नुक्कड़ में वह खाली प्लॉटों में कूड़े को फेंक दिया जाता है जिससे उस इलाके में गंदगी बढ़ जाती है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...