HomeFaridabadफरीदाबाद की जनता कोहरे में जरा आंखें खोल के रखे कदम, कही...

फरीदाबाद की जनता कोहरे में जरा आंखें खोल के रखे कदम, कही गड्ढे में ना धस जाए कदम

Published on

अगर आप सुबह या रात में बाइक या कार से कहीं जा रहे हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि शहर की ज्यादातर सड़कों पर गड्ढे हैं, जो इन दिनों कोहरे में नजर नहीं आते। ऐसे में आप किसी हादसे का शिकार हो सकते हैं। ऐसा नहीं है कि यहां के लोगों ने इन सड़कों की दुर्दशा अधिकारियों को नहीं बताई, इसके लिए प्रदर्शन भी किया। लेकिन शायद जिम्मेदारों की नजर कमजोर हो गई है, और साफ रोशनी में तो उन्हे कभी गड्ढे दिखे नही तो कोहरे में तो सवाल ही पैदा  नहीं होता कि उन्हें गड्ढे दिखेंगे भी। वरना कम से कम स्ट्रीट लाइट तो ठीक करवा देते।

स्ट्रीट लाइट नहीं देती रोशनी

पायली – हार्डवेयर एनआईटी 2, व्यापार मंडल, सूरजकुंड रोड, ग्रेटर फरीदाबाद से लार्ड कृष्णा चौक वाली रोड, सेक्टर-77 वाली रोड, केसी रोड, बाटा-मुजेसर रोड में मॉडर्न डीपीएस से चलते समय काफी सावधानी बरतने की जरूरत है। इनमें से कई सड़कों की स्ट्रीट लाइटें खराब हैं।

फरीदाबाद की जनता कोहरे में जरा आंखें खोल के रखे कदम, कही गड्ढे में ना धस जाए कदम

वही इन दिनों अत्यधिक ठंड के कारण कोहरा छाया रहता है। जिससे  साफ कम दिखाई देता है। इसी वजह से इन सड़कों से गुजरने वाले वाहन और लोगो की परेशानी बढ़ गई है।  कोहरे की चादर में लिपटी सड़कें स्ट्रीट लाइट में भी कोहरे को नहीं हटा पाती हैं, यहां रोशनी की कोई व्यवस्था नहीं।

काम सुधारने की बजाय बढ़ाते है अधिकारी

फरीदाबाद की जनता कोहरे में जरा आंखें खोल के रखे कदम, कही गड्ढे में ना धस जाए कदम

लोगों का कहना है कि सड़कों की मरम्मत के नाम पर उन्हें खोद कर छोड़ दिया गया है। इससे हादसे की आशंका बढ़ गई है। वहीं, कोहरे के कारण सड़कों पर गड्ढों के कारण चलने में परेशानी हो रही है। शहर की अधिकांश सड़कें निर्माणाधीन हैं। इस कारण दोनों ओर से मिट्टी की खुदाई की गई है। सड़क के किनारे पड़ी निर्माण सामग्री अंधेरे में दिखाई नहीं देती।

प्रदर्शन का नहीं हुआ असर, खुद करवाया मरम्मत

फरीदाबाद की जनता कोहरे में जरा आंखें खोल के रखे कदम, कही गड्ढे में ना धस जाए कदम

सड़क के निर्माण कार्य को लेकर पहले भी लोग प्रदर्शन कर चुके हैं। कई बार शिकायतें करने के बाद थक कर लोगों ने खुद चंदा एकत्रित कर सड़क का अस्थाई निर्माण भी किया गया था। लोग कहते हैं कि वे शिकायत करके थक गए हैं। इस विरोध के बाद भी प्रशासनिक अधिकारियों ने जर्जर सड़कों पर ध्यान नहीं दिया।

इन सावधानियों का रखे ध्यान

रात के समय सड़क पर चलते समय आगे और पीछे से आने वाले वाहनों से एक निश्चित दूरी बनाए रखें। साथ ही दोनों ओर देखकर सड़क पार करें। दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में समझदारी से वाहन की गति कम करें। सड़क के किनारे किसी वाहन की प्रतीक्षा करते समय हमेशा पर्याप्त दूरी बनाए रखें। वाहन चालकों को अपने वाहनों में लाइट रिफ्लेक्टर लगाना चाहिए।

फरीदाबाद की जनता कोहरे में जरा आंखें खोल के रखे कदम, कही गड्ढे में ना धस जाए कदम

रात को वाहन चलाते समय अपर-डिपर का प्रयोग करें। अचानक ब्रेक लेने से बचें। निर्माणाधीन सड़कों पर वाहन चलाते समय सावधानी बरतें। कोहरे में सड़क के किनारे सफेद पट्टी देखकर ही वाहन चलाएं। इंडिकेटर ऑन रखते हुए हॉर्न बजाते रहें। वाहन में फॉग लाइट लगवाएं।  चौपहिया वाहन में सीट बेल्ट अवश्य लगाएं। बाइक चलाते समय हेलमेट पहनें।

Latest articles

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

Haryana के इस शख्स ने किया Bollywood के सुपरस्टार ऋतिक रोशन के साथ काम, इससे पहले भी कर चुके है कई फिल्मों में काम

प्रदेश के युवा या बुजुर्ग सिर्फ़ खेल या शिक्षा के मैदान में ही तरक्की...

More like this

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...