HomeFaridabadफरीदाबाद में खुलेंगे 3 और नए ठेके संख्या नहीं होगी कम, नई...

फरीदाबाद में खुलेंगे 3 और नए ठेके संख्या नहीं होगी कम, नई आबकारी नीति हुई लागू

Published on

हरियाणा सरकार की नई आबकारी नीति के तहत स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में शराब के ठेकों की संख्या कम नहीं होगी, बल्कि करीब तीन ठेके और खोले जाएंगे। जिसके बाद जिले में ठेकों की संख्या करीब 140 हो जाएगी। आबकारी विभाग द्वारा नए बैंड बनाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। इसके बाद ई-नीलामी की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। अब स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में शराब के ठेकों के करीब 118 जोन हैं। प्रत्येक जोन में दो अनुबंध हैं। इसके अलावा सब-कॉन्ट्रैक्ट वेंडर भी हैं। वहीं मंगलवार को सीएम मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में हुई बैठक में नई आबकारी नीति लागू की गई।

 

मंदिर-स्कूलों के पास नहीं खुलेंगे ठेके

फरीदाबाद में खुलेंगे 3 और नए ठेके संख्या नहीं होगी कम, नई आबकारी नीति हुई लागू

आपको बता दे कि इसके तहत सरकार ने शराब के ठेकों की संख्या कम करने की बात कही है। इसके अलावा, छोटे शिल्प बेवरेज के लिए लाइसेंस शुल्क और वाइनरी के लिए पर्यवेक्षण शुल्क कम कर दिया गया है, साथ ही खुदरा शराब बिक्री के लिए जोन के आकार को चार से घटाकर दो कर दिया गया है। इसके अलावा पर्यावरण को बचाने की दिशा में भी कदम उठाए गए हैं। इसके लिए प्लास्टिक की बोतलों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है, यानी अब शराब सिर्फ कांच की बोतलों में ही मिलेगी। मंदिरों और शिक्षण संस्थानों के पास शराब के ठेके नहीं खोलने का फैसला किया गया है।

 

दारू के ठेके कम करने की आस में बैठे लोगों को झटका

फरीदाबाद में खुलेंगे 3 और नए ठेके संख्या नहीं होगी कम, नई आबकारी नीति हुई लागू

बता दे कि शहर में कई सामाजिक संगठन व लोग सरकार से जिले में शराब के ठेके कम करने की मांग कर रहे थे, परंतु उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया है। इसे लेकर लोग कई बार आबकारी विभाग और जिला उपायुक्त को ज्ञापन भी दे चुके हैं। जिले में शराब की दुकानों की बढ़ती संख्या से वह सहमे हुए हैं। इससे लोगों में सरकार के प्रति काफी रोष है। लोगों ने कहा कि सरकार एक तरफ माइल्ड और सुपर माइल्ड कैटेगरी के तहत बीयर पर एक्साइज ड्यूटी घटाकर जिले में बार कल्चर को बढ़ावा दे रही है, वहीं दूसरी तरफ ठेके कम करने का दावा कर रही है। जिस पर विभाग के अधिकारी अपना पक्ष रख रहे हैं।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...